Feature

अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी जिन्हें आईपीएल में उचित धनराशि प्राप्त नहीं होती

Share The Post

इंडियन प्रीमियर लीग एक लुभावनी एवं पैसों से परिपूर्ण लीग है और यही कारण है की विदेशी खिलाड़ी इस लीग की तरफ बड़ी चाव से देखते है जिसकी स्वाभाविक रूप से मुख्य वजह यहां खेली जाने वाली उच्च कोटि की क्रिकेट भी है। अपितु ज्यादातर खिलाड़ियों को आईपीएल में खेलने के लिए अच्छी धनराशि मिलती है मगर कुछ घरेलू एवं विदेशी खिलाड़ी इस मामले में दुर्भाग्यपूर्ण भी होते है। इस लेख में हम अपने देश का प्रतिनिधित्व करे हुए 6 ऐसे आईपीएल खिलाड़ियों का वर्णन करेंगे जिन्हें उनकी काबिलियत के अनुरूप धनराशि प्राप्त नहीं होती है।

एक खिलाड़ी की आईपीएल बोली उस वर्ष की नीलामी और खरीदार टीम की संरचना पर निर्भर होती है जिस वजह से कई बार कुछ खिलाड़ी काफी काबिल होने के बावजूद उचित धनराशि नहीं हासिल कर पाते है।

1. जसप्रीत बुमराह – 7 करोड़ भारतीय रुपए

जसप्रीत बुमराह उन खिलाड़ियों की सूची में शीर्ष पर आते है जो अपने देश का प्रतिनिधित्व करने के बावजूद अपनी क्षमता के अनुरूप धनराशि प्राप्त नहीं कर रहे है। भले ही 7 करोड़ की धनराशि बेहतरीन लगती हो परंतु बाकी तेज गेंदबाजों के मुकाबले यह काफी कम है। आईपीएल के संभवतः सबसे बेहतरीन गेंदबाज होने की वजह से यह धनराशि बुमराह के लिए और मामूली प्राप्त होती है। राईली मेरेडिथ जैसे युवा तेज गेंदबाजों की आईपीएल धनराशि देखकर बुमराह को मिलने वाली धनराशि और भी ज्यादा मामूली महसूस होती है।

Advertisement

2. केन विलियमसन – 3 करोड़ भारतीय रुपए

सनराइजर्स हैदराबाद के मौजूदा कप्तान और प्रमुख बल्लेबाज है केन विलियमसन। इसके बावजूद अपनी टीम के ज्यादातर साथियों से कम धनराशि मिलती है इन्हें जिसका कारण है इनकी नीलामी के वक्त इनको एक टेस्ट विशेषज्ञ के तौर पर देखा जाना जिस वजह से हैदराबाद को यह बेहद सस्ते दाम पर मिल गए।

3. मयंक अग्रवाल – 1 करोड़ भारतीय रुपए

मयंक अग्रवाल ने एक मुकाबले में पंजाब की कप्तानी की बागडोर संभाली है तथा अपनी टीम के लिए दूसरे प्रमुख बल्लेबाज की भूमिका निभाई है। यह अपनी टीम के सबसे अनुभवी भारतीय खिलाड़ी भी है। इन सबके बावजूद, इन्हें आईपीएल से सिर्फ 1 करोड़ की धनराशि प्राप्त होती है जिसकी वजह है 2018 में इनकी खराब लय आईपीएल में जिसके कारण इन पर काफी कम राशि की बोली लगी।

4. दीपक चाहर – 80 लाख भारतीय रुपए

दीपक चाहर भी आईपीएल से कम धनराशि प्राप्त करने वाले अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों की सूची में आते है। पावरप्ले ओवरों के जबरदस्त गेंदबाज होने के बावजूद भी चाहर आईपीएल से 1 करोड़ से भी कम की धनराशि वसूल पाते है। इसकी वजह है 2018 में इनका बेहद कम जाना पहचाना होना। बहरहाल, 2022 की बड़ी नीलामी में अगर चेन्नई इन्हें रखती नहीं है तो चाहर की बड़ी बोली लग सकती है।

Advertisement

5. पृथ्वी शॉ – 1.2 करोड़ भारतीय रुपए

पृथ्वी शॉ अंडर-19 में भारत का प्रतिनिधित्व करते थे जब इन्हें दिल्ली ने 2018 में खरीदा था। अब यह खिलाड़ी, शिखर धवन के साथ अपनी टीम के प्रमुख सलामी बल्लेबाज बन गए है। अगर दिल्ली की फ्रेंचाइजी इन्हें अगले सत्र के लिए भी रख लेती है तो आश्रय नहीं होगा क्योंकि शॉ ने अपने दमदार प्रदर्शन से सबका मन मोह लिया है जिस वजह उनको मिलने वाली यह धनराशि किसी तरीके से उचित नहीं लगती।

6. सूर्यकुमार यादव – 3.2 करोड़ भारतीय रुपए

सूर्यकुमार यादव आईपीएल के पिछले तीन सत्रों के संभवतः सबसे शानदार बल्लेबाज रहें है। इन्होंने भारत के लिए भी अपना पदार्पण कर लिया है और अब धीरे धीरे सीमित ओवरों में भारत के मध्यक्रम में अपनी जगह पुख्ता कर रहे है। इसके बावजूद सूर्यकुमार को मिलने वाली धनराशि सिर्फ 3.2 करोड़ रुपए है जो इनके पिछले कुछ वर्षों के आईपीएल प्रदर्शन के मुताबिक कहीं से भी सही नहीं लगती है।

Advertisement
Advertisement

Advertisement

Share The Post

Rahul Chaubey

A diehard fanatic and servant of the magnificent sport of cricket. The field related to cricket has always been my dream career choice and some dreams are way too good to be given up on. I inhale cricket, exhale cricket and thrive on cricket. I owe every ounce of my life to cricket because it has helped me become a fine individual.

Related Articles

Back to top button