NewsSocial

अंपायर के एलबीडब्ल्यू आउट ना देने पर राहुल चाहर ने गुस्से में उतार कर फेंका अपना चश्मा

Share The Post

राहुल चाहर उन भारतीय गेंदबाजों में से एक हैं जो भावनात्मक हैं और मैदान पर अपनी भावनाओं का प्रदर्शन करने से पीछे नहीं हटते. साउथ अफ्रीका में भारत ए और साउथ अफ्रीका ए के बीच खेले जा रहे प्रथम श्रेणी के मैच में राहुल चाहर उस समय भड़क गए जब अंपायर ने उनकी एक एलबीडब्ल्यू की अपील टाल दी.

भारत ए बल्लेबाजी के लिए अनुकूल पिच पर पहले गेंदबाजी कर रहा था और राहुल चाहर को पिच से ज्यादा मदद नहीं मिल रही थी. वो सौ रन से ज्यादा दे चुके थे और उन्हें ज्यादा सफलताएं नहीं मिली थी. कुछ अलग करने के लिए राहुल दाएं हाथ के बल्लेबाज को राउंड द विकेट गेंदबाजी करने लगे.

एक लेग स्पिनर के लिए दाएं हाथ के बल्लेबाज को राउंड द विकेट गेंदबाजी करते हुए एलबीडब्ल्यू आउट करना आम तौर पर मुश्किल होता है, क्योंकि उस कोण से ज्यादातर गेंदें लेग स्टंप के बहार गिरती हैं. पर जिस गेंद पर राहुल ने अपील की थी, वो गेंद मिडिल स्टंप के आस पास पिच हुई थी, हालांकि अंपायर का ऐसा मानना था कि गेंद अपने स्वाभाविक कोण पर चलते हुए बल्लेबाज के ऑफ स्टंप को छोड़ कर निकल जाती.

Advertisement

राहुल चाहर को पहले भी मैदान पर गुस्से में देखा गया है

राहुल चाहर उस सोच से सहमत नहीं थे. उनका ऐसा मानना था कि गेंद जहां पिच हुई थी, वहां से गेंद को स्टंप्स से टकराने के लिए बहुत काम दूरी तय करनी थी, इसलिए गेंद के ऑफ स्टंप से टकराने की संभावनाएं ज्यादा थी. एलबीडब्ल्यू की अपील ठुकराए जाने पर राहुल ने पहले तो अपना चश्मा उतार कर ग्राउंड पर फेंक दिया और फिर वो अंपायर के साथ बहस करते नजर आए.

ये पहली बार नहीं है जब राहुल चाहर को क्रिकेट के मैदान पर गुस्से में देखा गया है. वो आईपीएल में कई बार बल्लेबाज का विकेट लेने के बाद काफी भावनात्मक हो जाते हैं. अंपायर से बहस करने और चश्मा उतार कर फेंकने के लिए राहुल को मैच रेफरी के पास जाना पड़ सकता है, जिन्होंने मैदान पर हुए इस वाकये को नोट किया होगा.

Advertisement
Advertisement


Share The Post

Related Articles

Back to top button