IPLNews

IPL 2022: बीसीसीआई ने बायो बबल तोड़ने को लेकर जारी किये सख्त नियम

Share The Post

आईपीएल 2021 आईपीएल इतिहास का पहला ऐसा सीजन था जो कोरोना महामारी के कारण जिसे बायो-बबल के अंदर खेला गया था। हालांकि महामारी के बढ़ने की वजह से इस सीजन को बीच में ही पोस्टपोन कर दिया था। आईपीएल 2022 में ऐसा दोबारा कुछ न हो इसके लिए बीसीसीआई ने खिलाड़ियों के लिए सख्त नियम बनाए है।

पहली बार बायो बबल तोड़ने पर खिलाड़ी को 7 दिन तक क्वारंटीन में रहना पड़ेगा और साथ ही वो जितने मैच उस दौरान नहीं खेल पाएंगे उसके पैसे भी उन्हें नहीं मिलेंगे। दूसरी बार बायो बबल तोड़ने पर खिलाड़ी को 7 दिन के क्वारंटीन में रहने के साथ-साथ एक मैच का बैन भी झेलना पड़ेगा। तीसरी बार बायो बबल तोड़ने पर खिलाड़ी को पूरे सीजन से ही बाहर निकाल दिया जाएगा और टीम को कोई रिप्लेसमेंट भी नहीं दिया जाएगा।

वहीं अगर खिलाड़ियों के परिवार वालों ने बायो बबल तोड़ा तो पहली गलती पर खिलाड़ी के परिवार के सदस्य को 7 दिन क्वारंटीन में बिताने होंगे और दूसरी गलती पर खिलाड़ी के परिवार, दोस्त को बायो बबल से बायो बबल से बाहर का रास्ता दिखा दिया जाएगा और उनसे जुड़े खिलाड़ी को 7 दिन तक क्वारंटीन रहना पड़ेगा।

Advertisement

आईपीएल 2022 सीजन के लिए बीसीसीआई ने खिलाड़ियों के साथ-साथ फ्रेंचाइजी के अधिकारियों के लिए भी बनाए है सख्त नियम

खिलाड़ियों के अलावा इस साल फ्रेंचाइजी के लिए भी सख्त नियम बनाये है। अगर फ्रेंचाइजी जानबूझकर किसी सदस्य को आईपीएल 2022 के हेल्थ और सेफ्टी प्रोटोकॉल को पूरा किए बिना बायो-बबल में किसी खिलाड़ी या कोच से मिलने की अनुमति दे देती है तो फ्रेंचाइजी को 1 करोड़ रुपये का जुर्माना भरना पड़ेगा।

दूसरी बार गलती करने टीम का एक अंक काटा जाएगा और तीसरी गलती करने पर टीम के 2 अंक काटा जाएगा। इसके अलावा बोर्ड उस पर भी जुर्माना लगाएगा जो कोविड टेस्ट मिस करेंगे। बायो-बबल के अंदर नियमित रूप से कोविड टेस्ट किए जाएंगे, और यदि कोई ये टेस्ट कराने चूक जाता है तो उस पर 75,000 रुपये का जुर्माना लगा दिया जाएगा।

Advertisement
Advertisement

Advertisement

Share The Post

Related Articles

Back to top button