IPLNews

IPL: आरसीबी ने इन 5 प्लेयर्स पर लगाई थी सबसे बड़ी बोली

Share The Post

आईपीएल 2021 की नीलामी में आईपीएल इतिहास की सबसे महंगी खरीदारी देखी गई थी। इस नीलामी में कई टीमों ने कुछ नए खिलाड़ियों पर बहुत अधिक पैसा खर्च किया था।पिछली नीलामी में विदेशी तेज गेंदबाज मालामाल हुए थे। क्योंकि, उन पर करोड़ों रुपयों की बौछार की गई थी। आईपीएल 2021 की नीलामी में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के पास 30 करोड़ के अधिक का पर्स था। जिसका फायदा उठाते हुए उन्होंने कुछ खिलाड़ियों पर 10 करोड़ से अधिक खर्च किए थे।

Advertisement

बीते कुछ वर्षों में देखा गया है कि, आरसीबी एक ऐसी फ्रेंचाइजी है जो बड़े नाम वाले खिलाड़ियों पर अधिक पैसा खर्च करना पसंद करती है। पिछली नीलामियों में भी, विशेष रूप से आरसीबी एक ऐसी टीम रही है जो अपना पैसा खर्च करने के लिए काफी सक्रिय रही है।

Advertisement

इसी नोट के साथ आज के इस लेख में, आइए एक नजर डालते हैं। आईपीएल इतिहास में आरसीबी द्वारा की गई पांच सबसे महंगी खरीद पर।

5.) दिनेश कार्तिक:

दिनेश कार्तिक अपने पूरे आईपीएल करियर में आईपीएल की अधिकांश टीमों में रहे हैं। आईपीएल 2014 में वह 12.5 करोड़ के लिए दिल्ली कैपिटल्स का हिस्सा थे। हालांकि, एक साल बाद उन्हें रिलीज कर दिया गया था। अगले साल वह एक बार फिर मांग में थे और इस बार रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने उन्हें 10.5 करोड़ में खरीदा था।

Advertisement

दिनेश कार्तिक उन खिलाड़ियों में से एक हैं, जिन्हें इन नीलामियों के जरिए काफी पैसा मिला है। आरसीबी ने उन्हें 10.5 करोड़ में खरीदा था। लेकिन उनके लिए आईपीएल का वह सीजन बेहद खराब था। क्योंकि, उन्होंने पूरे सीजन में सिर्फ 141 रन बनाए थे। जिसके बाद आरसीबी ने उन्हें रिलीज कर दिया और वह एक नई टीम में चले गए।

4.) टाइमल मिल्स – 12 करोड़

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के फैंस टाइमल मिल्स का नाम भूलना चाहेगें। क्योंकि, टायमल मिल्स ने आईपीएल में कुछ खास नहीं किया है। मिल्स 2017 की नीलामी से ठीक पहले भारत-इंग्लैंड टी20 सीरीज का हिस्सा थे। इस सीरीज में उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया था। जिस कारण वह चर्चा का विषय बने हुए थे।

Advertisement

इंग्लैंड के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज की काफी मांग थी, इस कारण उनकी कीमत बढ़ती जा रही थी। हालांकि, अंत में, आरसीबी ने उन्हें 12 करोड़ रुपये में खरीदा था। हालांकि, यह आरसीबी के लिए फायदेमंद साबित नहीं हुआ। और, मिल् पांच मैचों में पांच विकेट ही हासिल कर सके। जिसके बाद मिल्स को उस सीज़न के बाद कभी भी किसी आईपीएल फ्रेंचाइजी द्वारा साइन नहीं किया गया।

3.) युवराज सिंह – 14 करोड़

युवराज सिंह के लिए मिनी नीलामी काफी अच्छी साबित हुई हैं। भारतीय ऑलराउंडर को हमेशा ही इन नीलामियों में अच्छा पैसा मिला है। 2014 की आईपीएल नीलामी में युवराज सिंह स्टार खिलाड़ी थे और ज्यादातर टीमें उन्हें पाने की कोशिश कर  रहीं थीं। हालांकि, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने 14 करोड़ रुपए की बड़ी बोली लगाते हुए युवराज सिंह को साइन किया था।

Advertisement

इतनी बड़ी बोली हासिल करने के बाद युवराज सिंह ने अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद थी। और वह उम्मीदों पर खरे उतरे। लेकिन फिर भी, आरसीबी ने उन्हें रिहा कर दिया ताकि वे उन्हें सस्ती कीमत पर खरीद सकें। लेकिन, उनका यह प्लान फेल हो गया। क्योंकि, दिल्ली कैपिटल्स ने उन्हें 2015 की आईपीएल नीलामी में 16 करोड़ रुपये में खरीदा था।

2.) ग्लेन मैक्सवेल – 14.25 करोड़

युवराज सिंह की तरह ग्लेन मैक्सवेल ने भी मिनी नीलामियों ने अच्छा काम किया है। ग्लेन मैक्सवेल को आईपीएल 2020 में 10.75 करोड़ में खरीदा गया था। लेकिन, यह उनका सबसे खराब सीज़न था। क्योंकि, वह पूरे सीज़न में एक छक्का लगाने में भी नाकाम रहे थे। इतने खराब सीजन के बाद भी नीलामी में इस विस्फोटक बल्लेबाज की काफी मांग थी।

Advertisement

आईपीएल 2021 की नीमाली में चेन्नई सुपर किंग्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ग्लेन मैक्सवेल को ट्रेड करने के लिए बड़ी बोलियाँ लगाई जा रही थी। हालांकि, अंत मे आरसीबी को सफलता प्राप्त हुई और उन्होंने ग्लेन मैक्सवेल को 14.25 करोड़ में साइन किया था।

1.) काइल जैमीसन – 15 करोड़

ग्लेन मैक्सवेल को इतनी बड़ी कीमत में खरीदने के बाद रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर नहीं रुकी। अपने टेस्ट करियर की शानदार शुरुआत करने वाले काइल जैमीसन की काफी मांग थी। क्योंकि, पंजाब किंग्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर बोली रोकने के लिए तैयार नहीं थे। अंत में, पंजाब किंग्स ने पीछे हटना शुरू कर दिया और आरसीबी ने न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज काइल जैमीसन को 15 करोड़ रुपये में खरीदा था।

Advertisement

हालांकि, इतनी बड़ी रकम हासिल करने के बाद भी काइल जैमीसन का प्रदर्शन बेहद खराब रहा था। शायद यही कारण था कि उन्होंने आईपीएल 2022 की मेगा नीलामी के लिए अपना रजिस्ट्रेशन भी नहीं कराया है। क्योंकि, उन्हें इस बात का अंदाजा रहा होगा कि, वह आईपीएल मेगा नीलामी में बड़ी बोली हासिल नहीं कर पाएंगे।

Advertisement
Advertisement

Advertisement

Share The Post

Related Articles

Back to top button