Feature

श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए सर्वश्रेष्ठ भारतीय प्लेइंग XI

Share The Post

बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने हाल ही में बताया कि जुलाई के महीने में भारतीय टीम द्विपक्षीय श्रृंखला के लिए श्रीलंका का दौरा करने वाली है। इस दौरे में 3 एकदिवसीय और 3 टी20 मुकाबले होंगे। चूंकि ज्यादातर बड़े खिलाड़ी इंग्लैंड में होने वाले वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मुकाबले और इंग्लैंड के विरुद्ध होने वाली टेस्ट सीरीज में व्यस्त होंगे, ऐसे में भारतीय स्क्वॉड में से सर्वश्रेष्ठ प्लेइंग XI का चुनाव करना होगा।

Advertisement

यह भी पढ़ें: PBKS के खिलाड़ियों द्वारा एक ओवर में बनाए गए सर्वाधिक रन

Advertisement

हालांकि श्रीलंका का हाल ही में प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा है मगर फिर भी वह भारत के लिए एक कड़ी प्रतिद्वंदी साबित हो सकती है। भारत को अवश्य ही अपनी सर्वश्रेष्ठ प्लेइंग XI के साथ उतरना चाहिए क्योंकि श्रीलंका के पास घरेलू हालात में खेलने का भी फायदा रहेगा।

आइए एक नजर डालते हैं भारत की सबसे मजबूत संभावित प्लेइंग XI पर

सलामी बल्लेबाज- शिखर धवन और पृथ्वी शॉ

जिस तरह का फॉर्म शिखर धवन और पृथ्वी शॉ ने आईपीएल में दिखाया है उसको देखते हुए यह दोनों सलामी बल्लेबाज भारतीय प्लेइंग XI के लिए एकदम फिट बैठते हैं। पृथ्वी शॉ ने हाल ही में खत्म हुई विजय हजारे टूर्नामेंट में सर्वाधिक रन बनाकर सभी आलोचकों का मुंह बंद कर दिया है और दिखाया है कि उनमें कितनी क्षमता है।

Advertisement

शिखर धवन के रूप में टीम के पास एक अनुभवी बल्लेबाज होगा और वह कप्तानी के लिए भी सबसे बेहतरीन विकल्प साबित होंगे। हालांकि टीम के पास देवदत्त पडीक्कल के रूप में एक बैकअप ओपनर भी मौजूद रहेगा जिन्हें कुछ मुकाबलों के बाद अवश्य मौका मिलना चाहिए।

मध्यक्रम बल्लेबाज- मनीष पांडे और सूर्यकुमार यादव

श्रेयस अय्यर के फिट ना होने पर भारतीय प्लेइंग XI में नंबर 4 पर खेलने के लिए सबसे उपर्युक्त विकल्प मनीष पांडे होंगे। मनीष पांडे को हाल ही में मुख्य टीम से बाहर का रास्ता दिखाया गया था लेकिन इस बल्लेबाज के पास लम्बे समय तक भारतीय टीम का हिस्सा रहने का अनुभव है और इनका अनुभव श्रीलंका के खिलाफ काफी काम आ सकता है।

Advertisement

साथ ही साथ सूर्यकुमार यादव भी टीम में नजर आएंगे जिन्हें हाल ही में भारत के लिए खेलने का मौका मिला और उन्होंने इसे पूरी तरह स्वीकार भी। सूर्य कुमार को उनके पिछले कई वर्षों के आईपीएल में बेहतरीन प्रदर्शन के आधार पर टीम में लिया गया था और उन्होंने अपने पहले ही मुकाबले में मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार भी जीता।

विकेटकीपर और ऑलराउंडर- इशान किशन और हार्दिक पंड्या

ऋषभ पंत की गैरमौजूदगी में इशान किशन के रूप में भारत के पास एक विस्फोटक विकेटकीपर बल्लेबाज मौजूद होगा जो श्रीलंका के खिलाफ अपना वनडे पदार्पण कर सकता है। सूर्यकुमार यादव की तरह ही इशान किशन को भी उनके आईपीएल में बेहतरीन प्रदर्शन के आधार पर भारत के लिए डेब्यू का मौका मिला था। उन्होंने भी अपने पहले ही मुकाबले में इंग्लैंड के खिलाफ एक बेहतरीन अर्धशतक लगाते हुए मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार जीता

Advertisement

ऑलराउंडर के रूप में भारत के पास हार्दिक पांड्या मौजूद होंगे जिनका हालिया फॉर्म कुछ खास नहीं रहा है, मगर हम आशा करेंगे कि श्रीलंका के खिलाफ वह वापस फॉर्म में लौटे और भारत को इस श्रंखला में अपने हरफनमौला प्रदर्शन से जिताएं।

स्पिन गेंदबाज- क्रुणाल पांड्या और राहुल चाहर

क्रुणाल पांड्या के पास बल्लेबाजी के साथ-साथ स्पिन गेंदबाजी की भी कला है। ऐसे में निचले क्रम में बल्लेबाजी तथा स्पिन गेंदबाजी की जिम्मेदारी क्रुणाल पांड्या को मिल सकती है। पांड्या ने हाल ही में भारतीय टीम के लिए भी खेला था और एक अर्धशतक भी बनाया था।

Advertisement

मुख्य स्पिनर के तौर पर वनडे प्रारूप में युजवेंद्र चहल को उनके अनुभव के आधार पर राहुल चाहर से पहले खिलाया जा सकता है। चहल का हालिया फॉर्म भले ही अच्छा ना रहा हो लेकिन उन्होंने लम्बे समय से टीम की स्पिन की बागडोर संभाली हुयी है।

तेज गेंदबाज- भुवनेश्वर कुमार, नवदीप सैनी और जयदेव उनादकट

भुवनेश्वर कुमार की अगुवाई में भारत का तेज गेंदबाजी आक्रमण संतुलित नजर आ रहा है। चोट के बाद वापसी करने वाले भुवनेश्वर कुमार ने इंग्लैंड के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन किया मगर आईपीएल में वह लय में नजर नहीं आए। मगर हम सब जानते हैं कि भुवनेश्वर किस दर्जे के गेंदबाज हैं और उनसे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीदें रहेंगी।

Advertisement

नवदीप सैनी के पास धीमी पिचों पर अपनी गति से विपक्षी बल्लेबाजों को परेशान करने की कला है। सैनी को आईपीएल में मात्र एक ही मैच में खिलाया गया था लेकिन वनडे सीरीज में प्रमुख गेंदबाजों की गैरमौजूदगी में इन पर बड़ी जिम्मेदारी होगी।

जयदेव उनादकट को उनके शानदार घरेलू प्रदर्शन की वजह से आगामी वनडे सीरीज में टीम की गेंदबाजी का हिस्सा बनाया जा सकता है। उनादकट को काफी अनुभव है और वह पहले भी भारतीय टीम के लिए खेल चुके हैं।

Advertisement
Advertisement
Advertisement


Share The Post

Related Articles

Back to top button