Feature

5 खिलाड़ी जिन्हें श्रीलंका दौरे के लिए भारतीय टीम में नहीं चुना गया

Share The Post

भारतीय टीम (Indian Cricket Team) काफी लंबे समय के बाद श्रीलंका का दौरा करने के लिए तैयार है। यह दौरा जुलाई में शुरू होगा, जब भारतीय टीम 13 जुलाई से श्रीलंका में तीन वनडे मैच और तीन टी-20 मैचों की सीरीज खेलेगी। इस दौरे के लिए भारत की प्रमुख टीम की जगह दूसरी टीम जाएगी क्योंकि प्रमुख टीम के सभी खिलाड़ी इस समय इंग्लैंड में मौजूद हैं, जहां पर विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल तथा अगस्त में इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज खेली जानी है ।

चयनकर्ताओं ने इस दौरे के लिए कई युवा खिलाड़ियों को टीम में मौका दिया है जिन्होंने हाल ही में घरेलू क्रिकेट तथा आईपीएल में शानदार प्रदर्शन किया था उन खिलाड़ियों में देवदत्त पडीक्कल, ऋतुराज गायकवाड़, नितीश राणा, वरुण चक्रवर्ती और चेतन सकारिया जैसे नए चेहरे मौजूद हैं। हालांकि कुछ युवा खिलाड़ी ऐसे ही रहे जिन्हें भारतीय टीम में नहीं चुना गया। इन खिलाड़ियों में कई खिलाड़ी ऐसे हैं जिनका हालिया प्रदर्शन काफी अच्छा था।

5 खिलाड़ी जिन्हें श्रीलंका दौरे के लिए भारतीय टीम में नहीं चुना गया

1. रवि बिश्नोई

रवि बिश्नोई ने अपने पिछले दो आईपीएल सीजन में काफी प्रभावित किया था। ऐसे में उन्हें श्रीलंका दौरे के लिए चुना जा सकता था और वो वहां पर टी20 खेलकर अपनी काबिलियत का प्रदर्शन कर सकते थे। पिछले कुछ समय से लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल का प्रदर्शन उस स्तर का नहीं रहा है। ऐसे में बिश्नोई को चहल के बैकअप के रूप में आजमाने का यह पूरा सही मौका था। हालांकि चयनकर्ताओं ने चहल के साथ राहुल चाहर के अलावा टीम में और कोई लेग स्पिनर शामिल करने के बारे में नहीं सोचा। इसी वजह से उन्होंने रवि बिश्नोई को नहीं चुना।

Advertisement

यह भी पढ़ें: टी20 विश्वकप इतिहास के टॉप 4 गेंदबाजी प्रदर्शन

2. हर्षल पटेल को भी भारतीय टीम में मौका नहीं मिला 

2019 20 में खेली गई सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में हर्षल पटेल का बतौर ऑलराउंडर जबरदस्त प्रदर्शन रहा था। उस सीजन हर्षल ने 12 मैचों में 19 विकेट हासिल किए थे, वहीं उन्होंने 374 रन भी बनाए थे। हर्षल पटेल उस सीजन सर्वाधिक रन बनाने वालों की सूची में चौथे नंबर पर थे।

भारतीय टीम को हार्दिक पांड्या की तरह ही तेज गेंदबाजी ऑलराउंडर की तलाश है और उनकी जरूरत को हर्षल पटेल काफी हद तक पूरी कर सकते थे। हर्षल पटेल ने इस आईपीएल सीजन में भी जबरदस्त प्रदर्शन किया था और सात मैचों में 17 विकेट अपने नाम किए थे। टूर्नामेंट जब स्थगित हुआ था तो वह सर्वाधिक विकेट लेने वालों की सूची में शीर्ष स्थान पर काबिज थे। ऐसे में हर्षल पटेल का ना चुना जाना काफी दुर्भाग्यशाली रहा।

Advertisement

3. जयदेव उनादकट

तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट उन दुर्भाग्यशाली खिलाड़ियों में से एक हैं जो लगातार घरेलू क्रिकेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन करते हैं लेकिन उन्हें इसका उन्हें फल नहीं मिलता है। आईपीएल 2021 में भी जयदेव उनादकट ने कुछ मैच खेले, जिसमें उनका प्रदर्शन ठीक-ठाक रहा था। चयनकर्ताओं ने चेतना सकारिया को चुना है, जिनके पास अभी उतना अनुभव नहीं है और उनका प्रदर्शन भी उस तरह का नहीं था जिसके आधार पर उन्हें भारतीय टीम में चुना जाए।

4. राहुल तेवतिया

राहुल तेवतिया को इंग्लैंड के खिलाफ हुई टी20 सीरीज के लिए भारतीय टीम में चुना गया था। फिटनेस संबंधी समस्याओं के कारण उन्हें एक भी मैच खेलने का नहीं मिला। ऐसे में फिटनेस की समस्याओं को दूर करने के बाद राहुल तेवतिया को श्रीलंका दौरे पर चुना जाना चाहिए था लेकिन चयनकर्ताओं ने उन्हें नजरअंदाज कर दिया। तेवतिया की जगह चयनकर्ताओं ने कृष्णप्पा गौतम को मौका दिया, जिन्होंने इस आईपीएल सीजन एक भी मैच नहीं खेला था।

5. मनदीप सिंह

मनदीप सिंह घरेलू क्रिकेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन करने वाले बल्लेबाजों में से एक हैं। उन्होंने पिछले काफी समय से ढेर सारे रन बनाए लेकिन इसके बावजूद उन्हें टीम इंडिया में जगह नहीं मिली है। मनदीप सिंह ने एक बार फिर अपने आप को नजरअंदाज किए जाने पर सोशल मीडिया पर अपनी प्रतिक्रिया दी थी लेकिन उन्होंने यह भी माना था कि शायद अभी उन्हें और मेहनत करने की जरूरत है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement


Share The Post

Abhay Singh

क्रिकेट का प्रशंसक हूं और अपने इसी शौक की वजह से मैं क्रिकेट लेखन के क्षेत्र में भी सक्रिय हूं।

Related Articles

Back to top button