NewsSocial

वेंकटेश अय्यर के बारे में सब कुछ जो आप जानना चाहते हैं

Share The Post

कोलकाता नाइट राइडर्स आईपीएल के दूसरे सीजन में नए रंग में दिखाई दे रही है। ऐसा लग ही नही रहा कि यह वही केकेआर है जिसने पहला सीजन खेला था। बैंगलोर और मुंबई के खिलाफ शानदार गेंदबाजी के बाद बल्लेबाजी में जिस तरह से कोलकाता ने शानदार प्रदर्शन किया है उससे फैंस बेहद खुश हैं।

कोलकाता की वर्तमान मजबूत स्थिति के लिए यूँ तो पूरी टीम का योगदान है लेकिन एक व्यक्ति जिसने कोलकाता का काया पलट किया है वह हैं युवा स्टार वेंकटेश अय्यर। वेंकटेश अय्यर अपनी फ्रेंचाइजी के लिए वही कर रहे हैं जिसकी फ्रेंचाइजी को जरूरत थी। हालांकि वैकेंटेश को पहले चरण में बल्लेबाजी का मौका नही मिला। लेकिन अब जबकि, आरसीबी के खिलाफ मौका मिला तो उन्होंने अपनी प्रतिभा का प्रमाण दे दिया है।

वेंकटेश अय्यर ने पहले बैंगलोर के खिलाफ धुंआधार 41 रनों की पारी खेली। और फिर, आईपीएल के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आक्रमण वाली फ्रेंचाइजी मुंबई इंडियंस के गेंदबाजों के विरुद्ध भी जमकर कमाल दिखाया।

Advertisement

कोलकाता के नए-नवेले ओपनर बल्लेबाज वेंकटेश अय्यर के बारे में खेल प्रशंसकों के लिए अब भी बहुत कुछ जानना शेष है। हम आपके लिए लेकर आएं हैं उनके बारे में कुछ विशेष जानकारी…

वेंकटेश अय्यर की आईपीएल कीमत

मध्यप्रदेश के इंदौर में रहने वाले वेंकटेश अय्यर को शाहरुख खान के स्वामित्व वाली केकेआर ने उनके बेस प्राइस यानि 20 लाख रुपये में खरीदा था।

वेंकटेश अय्यर राज्य टीम

मध्यप्रदेश के रहने वाले वेंकटेश अय्यर मध्य प्रदेश की राज्य टीम का हिस्सा थे। इस टीम में उनके शानदार प्रदर्शन के बाद ही कोलकाता ने उन पर ध्यान दिया था और नीलामी में उनकी खरीदारी की थी।

Advertisement

वेंकटेश अय्यर उम्र

इस युवा बल्लेबाज का जन्म 25 दिसंबर 1994 को हुआ था और उनकी वर्तमान आयु 26 वर्ष, 272 दिन है।

वेंकटेश अय्यर आँकड़े

मध्य प्रदेश के इंदौर में पले बढ़े वेंकटेश के आंकड़े बेहद प्रभावशाली हैं। उन्होंने 10 प्रथम श्रेणी मैचों में 36 से अधिक के औसत से 545 रन बनाए हैं। इतना ही नही, उन्होंने 24 लिस्ट-ए मैच खेले हैं जिनमें 47.2 की औसत से 849 रन बना चुके हैं। इसके अलावा उन्होंने अब तक 41 टी20 मैच खेले हैं जिनमें 39 के शानदार औसत और 140.3 के स्ट्राइक रेट से 818 रन बनाए हैं।

वेंकटेश अय्यर शिक्षा

वेंकटेश अय्यर ने इंदौर के डीएवीवी विश्वविद्यालय से बीकॉम और सेंट पॉल हायर सेकेंडरी से स्कूली शिक्षा पूरी की है। उन्होंने सीए इंटरमीडिएट पास कर लिया था लेकिन फाइनल से पहले ही इसे छोड़ दिया क्योंकि उनका ध्यान खेल के प्रति था और वे इसी में ध्यान लगाना चाहते थे।

Advertisement

ईएसपीएन क्रिकइन्फो के साथ एक साक्षात्कार में, उन्होंने कहा है कि, “मैंने अपना सीए छोड़ने और फाइनेंस में एमबीए करने का फैसला किया था। इसके लिए मुझे कई सारी प्रवेश परीक्षाएँ देनी पड़ीं। इन परीक्षाओं में मैंने अच्छे अंक प्राप्त किए और एक अच्छे कॉलेज में दाखिला लिया। मैं भाग्यशाली था कि फैकल्टी को क्रिकेट पसंद आया, और उन्होंने देखा कि मैं अच्छा कर रहा हूँ।”

वेंकटेश अय्यर ने इस साक्षात्कार में यह भी कहा कि “ईमानदारी से कहूं तो मुझे दोनों को मैनेज करने के लिए ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ी। मैं व्यक्तिगत प्रशंसा नही कर रहा किन्तु मैं हमेशा एक होनहार छात्र रहा हूं। हालांकि मैं अपने खेल के बारे में ऐसा नहीं कह सकता। अगर क्रिकेट नहीं होता, तो मैं एक IIT (भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान) या IIM (भारतीय प्रबंधन संस्थान) में पढ़ाई कर रहा होता।”

 

Advertisement

 

Advertisement
Advertisement


Share The Post

Related Articles

Back to top button