FeatureNews

केकेआर के उन खिलाड़ियों की सबसे मजबूत प्लेइंग इलेवन जिन्हें फ्रेंचाइजी ने अलग कर दिया था

Share The Post

इंडियन प्रीमियर लीग की ट्राफी में दो बार कब्जा कर चुकी कोलकाता नाइट राइडर्स इस बार भी ट्राफी की प्रबल दावेदारों में से एक है। आईपीएल के शुरुआती संस्करण तीन संस्करणों में केकेआर का प्रदर्शन खराब रहा और वह प्ले ऑफ में भी प्रवेश नही कर सकी।

हालांकि, साल 2011 की आईपीएल नीलामी में केकेआर ने अपनी टीम में कई स्टार खिलाड़ियों को शामिल किया। इतना ही नही, कोलकाता ने अपने कप्तान में भी बदलाव कर दिया। इसके बाद यह टीम साल 2011 में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए प्ले ऑफ में प्रवेश किया। हालांकि टीम फाइनल तक नही पहुंच पायी लेकिन उसने फाइनल के दरवाजे पर दस्तक दे दी थी।

इसके बाद साल 2012 और 2014 कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए बेहद खास रहे। इन दोनों ही वर्षों में केकेआर ने गौतम गंभीर की कप्तानी में आईपीएल ट्राफी पर कब्जा जमाया। आईपीएल इतिहास में कई महान खिलाड़ियों ने केकेआर का प्रतिनिधित्व किया है।

Advertisement

एक नजर डालते हैं, उन खिलाड़ियों की सबसे मजबूत प्लेइंग इलेवन पर जिन्हें कभी कोलकाता नाइट राइडर्स ने अपनी फ्रेंचाइजी से अलग कर दिया था।

सलामी बल्लेबाज- गौतम गंभीर व सौरभ गांगुली

कोलकाता नाइट राइडर्स की अगुवाई कर चुके ये दोनों ही दिग्गज खिलाड़ी केकेआर की ओपनिंग करेंगे। गौतम गंभीर ने केकेआर के लिए 108 मैच खेले हैं। इस दौरान उन्होंने 120.21 के शानदार स्ट्राइक रेट से 3035 रन बनाए हैं। इतना ही नहीं केकेआर ने साल 2012 और 2014 में गंभीर की कप्तानी में ही आईपीएल का ख़िताब जीता था।

भारतीय क्रिकेट के दिग्गज और दादा के नाम से मशहूर सौरव गांगुली ने भी कोलकाता नाइट राइडर्स की कप्तानी की है। गांगुली ने केकेआर के लिए 40 मैच खेलते हुए 1031 रन बनाए हैं।

Advertisement

मध्यक्रम- रॉबिन उथप्पा, मनीष पाण्डेय और सूर्य कुमार यादव

कोलकाता नाइट राइडर्स को दूसरी बार आईपीएल विजेता बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले रॉबिन उथप्पा ने साल 2014 में ऑरेंज कैप अपने नाम की थी। इस वर्ष वे कोलकाता के लिए लगातार अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे। उथप्पा के अलावा, मनीष पाण्डेय ने भी बेहतरीन खेल दिखाया था। 2014 के आईपीएल फाइनल में रॉबिन उथप्पा और मनीष पांडेय की जोड़ी ने ही केकेआर को विजेता बनाया था।

सूर्यकुमार यादव कोलकाता के लिए मध्यक्रम में बल्लेबाजी करने वाले तीसरे खिलाड़ी होंगे। सूर्यकुमार यादव एक बेहतरीन फिनिशर के साथ-साथ मिडिल ऑर्डर में पिंच हिटर की भूमिका निभा सकते हैं।

ऑल राउंडर- क्रिस गेल, यूसुफ पठान और रजत भाटिया

किसी भी टीम में ऑल राउंडर की भूमिका बेहद अहम होती है। लेकिन, यदि किसी टीम में तीन ऑल राउंडर हों तो उससे अधिक मजबूत कोई और टीम नही हो सकती। इस टीम के तीन ऑल राउंडर क्रिस गेल, यूसुफ पठान और रजत भाटिया होंगे।

Advertisement

निश्चित ही ऑल राउंडर के रूप में क्रिस गेल का नाम देखकर कई खेल प्रशंसक चौंक सकते हैं। लेकिन, यहां गेल को ऑल राउंडर के रूप में इसलिए रखा गया है क्योंकि जब वे कोलकाता के लिए खेल रहे थे तब वे नियमित गेंदबाजी करते हुए दिखाई देते थे।

यूसुफ पठान और रजत भाटिया केकेआर के लिए ऐसे ऑल राउंडर के रूप में थे जिन्होंने विषम परिस्थितियों में भी टीम के लिए असाधारण प्रदर्शन किया था। यूसुफ पठान ने कोलकाता से खेलते हुए 106 मैचों में 1,893 रन बनाए और 21 विकेट हासिल किए। वहीं, रजत भाटिया ने 46 मैचों में 7.22 के इकॉनमी से 32 विकेट झटके।

गेंदबाज- नाथन कूल्टर नाइल, पीयूष चावला और इशांत शर्मा

केकेआर की इस टीम में नाथन कूल्टर नाइल और इशांत शर्मा की जोड़ी गेंदबाजी आक्रमण का नेतृत्व करेगी। ईशांत शर्मा ने केकेआर की ओर से खेलते हुए 25 विकेट प्राप्त किए। वहीं, कूल्टर नाइल ने 8 मैचों में 15 विकेट हासिल कर टीम की कई जीत में अहम योगदान दिया। इसके अलावा, पीयूष चावला केकेआर के लिए एक मात्र स्पिनर होंगे। लेग स्पिनर चावला ने, केकेआर के लिए 70 मैचों में 66 विकेट हासिल किए हैं।

Advertisement

आईपीएल के लिए कोलकाता नाइट राइडर्स की सर्वश्रेष्ठ प्लेइंग इलेवन इस प्रकार होगी- गौतम गंभीर (कप्तान), सौरव गांगुली, क्रिस गेल, रॉबिन उथप्पा, मनीष पांडे, सूर्यकुमार यादव, युसूफ पठान, रजत भाटिया, नाथन कूल्टर नाइल, इशांत शर्मा और पीयूष चावला।

 

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement


Share The Post

Related Articles

Back to top button