News

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर दानिश कनेरिया का दावा, बंटी हुई है टीम इंडिया, कोहली और केएल राहुल नहीं कर रहे हैं बात

Share The Post

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर और दिग्गज गेंदबाज रहे दानिश कनेरिया का मानना ​​है कि, विराट कोहली स्टैंड-इन कप्तान केएल राहुल को अपनी राय नहीं दे रहे हैं। पूर्व पाकिस्तानी लेग स्पिनर दानिश कनेरिया को लगता है कि, केएल राहुल के नेतृत्व में भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका दौरे पर एकजुट नहीं है। और, दौरे के बीच में ही टेस्ट कप्तानी से इस्तीफा देने वाले पूर्व कप्तान विराट कोहली मैदान पर एक्टिव नहीं दिखाई दे रहे हैं।

कनेरिया राहुल की नेतृत्व क्षमता से भी ज्यादा प्रभावित नहीं हैं। और, उनका मानना ​​है कि, राहुल के नेतृत्व में टीम फील्ड पर उतनी तीव्रता नहीं दिखा रही है, जितनी पहले दिखती थी। लेकिन, उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया है कि विराट कोहली भी इस क्षेत्र में इतने कुशल नहीं हैं।

कनेरिया के अनुसार, जब भी भारतीय टीम ने डीआरएस या कोई महत्वपूर्ण फैसला लिया है। कोहली को कप्तान के करीब कहीं भी नहीं देखा गया है और वह पूरी यूनिट से डिस्कनेक्ट हो गए हैं। यह स्पष्ट रूप से दर्शाता है कि भारतीय खेमा एकजुट नहीं है। इसलिए, रोहित शर्मा का वापस आना और कप्तानी संभालना बहुत महत्वपूर्ण है।

Advertisement

दानिश कनेरिया नियमित रूप से अपने YouTube चैनल पर भारतीय क्रिकेट के बारे में अपने विचार व्यक्त करते हैं। और उन्होंने अतीत में भी बहुत सी अजीबोगरीब बातें कही हैं। लेकिन, केएल राहुल और विराट कोहली के बीच मतभेद की बातों पर उनकी हालिया टिप्पणियों ने हलचल पैदा कर दी है।

केएल राहुल भारत के पूर्णकालिक टेस्ट कप्तानी के दावेदारों में से एक हैं

केएल राहुल अभी खेल के किसी भी रूप में भारत के स्थायी कप्तान नहीं हैं। श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट मैचों की श्रृंखला से पहले टेस्ट कप्तानी संभालने के दावेदारों में से एक होने की भी चर्चा है। लेकिन, वह वर्तमान में दक्षिण अफ्रीका में एकदिवसीय कप्तान के रूप में कार्य कर रहे हैं। क्योंकि, रोहित शर्मा चोटिल होने की वजह से खेल पाने में समर्थ नहीं हैं।

जब विराट कोहली ने भारत के टी20 कप्तान के रूप में इस्तीफा दे दिया था। तो चयनकर्ताओं ने शुरू में रोहित को टी20 टीम का प्रभार दिया था। लेकिन बाद में, उन्होंने कोहली को वनडे की कप्तानी से भी बर्खास्त कर दिया और रोहित को बाद में भारत के पूर्ण सफेद गेंद वाले कप्तान के रूप में नामित किया।

Advertisement

यह भी पढ़ें: केविन पीटरसन ने बताया यह खिलाड़ी हो सकता है भारतीय टेस्ट टीम का अगला कप्तान

हालांकि, जहाँ तक टेस्ट कप्तानी का सवाल है, रोहित का नाम उनकी फिटनेस के मुद्दों और टेस्ट क्रिकेट की भीषण मांगों के कारण चर्चा का विषय बना रहता है। इसके अलावा, भारतीय चयनकर्ता टेस्ट कप्तानी के संबंध में लंबे समय तक सोच सकते हैं। हालांकि 34 वर्षीय रोहित शर्मा भारतीय क्रिकेट के भविष्य में आगे बढ़ने के लिए सबसे अच्छा विकल्प नहीं हो सकता है।

इसके अलावा, ऋषभ पंत भी टेस्ट कप्तानी के मौके के साथ हैं, लेकिन उनकी अनुभवहीनता उनके खिलाफ जा सकती है, क्योंकि चयनकर्ता बदलाव के दौर में नेतृत्व की भूमिका के साथ एक युवा खिलाड़ी पर बोझ नहीं डालना चाहेंगे।

Advertisement
Advertisement

Advertisement

Share The Post

Related Articles

Back to top button