News

बीच मैदान में हुआ वेंकटेश अय्यर के साथ हादसा, मैदान पर आया एम्बुलेंस

Share The Post

दलीप ट्रॉफी 2022 में वेस्ट जोन और सेंट्रल जोन के बीच चल रहे मैच के दौरान शुक्रवार को एक भयानक दृश्य देखा गया। दरअसल, भारतीय ऑलराउंडर वेंकटेश अय्यर को विपक्षी गेंदबाज चिंतन गाजा की थ्रो से सिर पर चोट लगने के बाद मैदान से बाहर होना पड़ा।

Advertisement

अय्यर ने गाजा की पहली गेंद पर छक्का लगाया। अगली गेंद पर इंदौर के बल्लेबाज ने गेंदबाज को वापस खेला। गाजा ने फॉलोथ्रू में गेंद को उठाया और गुस्से में अय्यर पर वापस फेंक दिया जिसके बाद गेंद अय्यर के सिर पर जा लगी और वह वहीं गिर पड़े।

Advertisement

इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार, एम्बुलेंस मैदान के बीच में आ गई और स्ट्रेचर भी बाहर था, लेकिन अय्यर ने मैदान से बाहर चल कर जाने फैसला किया। वह बाद में वापस आए लेकिन ज्यादा योगदान नहीं दे सके। 37वें ओवर में तनुश कोटियन द्वारा आउट होने से पहले उन्होंने एक छक्के और दो चौकों की मदद से 9 गेंदों में 14 रन बनाए। इससे पहले शुक्रवार को, वेस्ट जोन को सेंट्रल जोन ने दूसरे सेमीफाइनल के पहले दिन स्टंप तक 9 विकेट पर 252 रनों पर सीमित कर दिया गया था। सेंट्रेल जोन के बाएं हाथ के स्पिनर कुमार कार्तिकेय सिंह ने पांच विकेट लिए थे।

Advertisement

 एक समय पर हार्दिक पांड्या के रिप्लेसमेंट के रूप में देखे जा रहे थे वेंकटेश

वेंकटेश एक समय पर हार्दिक पांड्या के रिप्लेसमेंट के रूप में देखे जा रहे थे। उन्होंने आईपीएल 2021 में अपने शानदार प्रदर्शन से सब का ध्यान अपनी ओर खींचा था। जिसके बाद वेंकटेश को भारतीय टीम में खेलने का मौका मिला। हालांकि भारतीय जर्सी में उनका प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा जिसके कारण उन्हें टीम से बाहर होना पड़ा।  हाल में टीम इंडिया के साथ जरूर थे लेकिन हार्दिक पांड्या की वापसी के बाद उन्हें खेलने का मौका नहीं मिला।

मैच की बात करे तो सेंट्रल जोन ने टॉस जीत कर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया था। वेस्ट जोन ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 257 रन ऑल आउट हो गई। वेस्ट जोन की ओर से राहुल त्रिपाठी 67, पृथ्वी शॉ 66 और शम्स मुलानी ने 41 रनों का योगदान दिया। दूसरी ओर सेंट्रल जोन की पहली पारी 128 रनों पर सिमट गई।

Advertisement
Advertisement
Advertisement


Share The Post

Related Articles

Back to top button