FeatureIPL

वो स्टार प्लेयर्स जो रिटेन का ऑफर दिए जाने के बाद भी छोड़ सकते हैं फ्रेंचाइजी

Share The Post

इंडियन प्रीमियर लीग यानि आईपीएल में शामिल होने वाले प्रत्येक खिलाड़ी की इच्छा होती है कि उसे अधिक से अधिक या कम से कम उसकी क्षमता अनुसार वेतन प्राप्त हो। हालांकि, हर किसी को उनकी योग्यतानुसार वेतन नही मिल पाता है। जिसके बाद वह अपनी ही फ्रेंचाइजी के साथ रिटेन होते हुए अधिक वेतन की मांग करता है या फिर नीलामी में शामिल होकर वेतन वृद्धि की उम्मीद करता है।

चूंकि, इस बार आईपीएल-2022 से पहले सभी फ्रेंचाइजी को मेगा नीलामी में शामिल होना होगा। साथ ही उनके पास अपने स्टार प्लेयर्स को रिटेन करने का मौका भी होगा। चूंकि, किसी भी फ्रेंचाइजी द्वारा प्लेयर का रिटेन किया जाना उस प्लेयर की इच्छा के अनुरूप ही संभव है। ऐसे में आईपीएल-2022 से पहले कुछ ऐसे भी प्लेयर हैं जो मेगा नीलामी से पहले अपनी फ्रेंचाइजी द्वारा रिटेन करने का विकल्प दिए जाने के बाद भी साथ नही रहेंगे।

आइये, एक नज़र डालते हैं, आईपीएल-2021 के उन स्टार प्लेयर्स पर जो आईपीएल-2022 के लिए अपनी फ्रेंचाइजी द्वारा रिटेन का ऑफर दिए जाने के बाद भी फ्रेंचाइजी छोड़ सकते हैं।

Advertisement

1.) केएल राहुल:

आईपीएल-2021 की समाप्ति के साथ ही इस बात की चर्चा जोरों पर थी कि, केएल राहुल आईपीएल-2022 से पहले होने वाली नीलामी में पंजाब किंग्स का साथ छोड़ सकते हैं। लेकिन, अब ऐसी अटकलें बढ़ रही हैं कि केएल राहुल उन खिलाड़ियों में से एक हैं जिन्हें आईपीएल-2022 से पहले पंजाब किंग्स द्वारा उन्हें रिटेन किया जाएगा।

पंजाब किंग्स के सह-मालिकों की हालिया टिप्पणियों ने संकेत दिया है कि केएल राहुल को रिटेन किए जाने के विषय में चर्चाएं जारी हैं। गौरतलब है कि, केएल राहुल हाल के आईपीएल सीज़न में ऑरेंज कैप जीतने के साथ ही सर्वश्रेष्ठ भारतीय बल्लेबाजों में से एक रहे हैं। साथ ही उन्होंने, पिछले दो सीजन में पंजाब किंग्स का नेतृत्व भी किया है।

चूंकि, केएल राहुल मूल रूप से कर्नाटक से हैं। इसलिए वह अपनी घरेलू फ्रेंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए भी खेल सकते हैं। चूंकि, राहुल के पास कप्तानी का अच्छा अनुभव है और विराट कोहली के कप्तानी छोड़ने के बाद रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर एक नए कप्तान की तलाश में है। ऐसे में राहुल उनके लिए आदर्श विकल्प हो सकते हैं।

2.) श्रेयस अय्यर:

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में यह दावा किया गया है कि, श्रेयस अय्यर आगामी आईपीएल में भी दिल्ली कैपिटल्स के साथ ही रहना चाहते हैं। चूंकि, वह दिल्ली के कप्तान रह चुके हैं और आगामी सीजन में भी दिल्ली की कप्तानी करना चाहेंगे। ऐसे में कोई दो राय नही कि फ्रेंचाइजी द्वारा उन्हें रिटेन किए जाने के साथ ही कप्तानी का ऑफर दिया जाए तो वह उसे स्वीकार कर लेंगे।

Advertisement
हालांकि, यह निश्चित है कि, फ्रैंचाइज़ी का झुकाव स्वाभाविक रूप से ऋषभ पंत की ओर होगा, जो कि गत सीजन से दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान भी हैं। उल्लेखनीय है कि, फ्रेंचाइजी में ऋषभ के होते हुए श्रेयस अय्यर को कप्तानी मिले इसकी संभावना न के बराबर ही हैं। चूंकि, किसी अन्य फ्रेंचाइजी में जाने के बाद श्रेयस अय्यर निश्चित रूप से अधिक वेतन की प्राप्ति कर सकते हैं। ऐसे में संभव है कि रिटेन किए जाने के बाद भी वह फ्रेंचाइजी से बाहर होने के विकल्प का चुनाव करें।

3.) रवींद्र जडेजा:

अगर महेंद्र सिंह धोनी संन्यास लेते हैं तो रवींद्र जडेजा चेन्नई सुपर किंग्स के लिए कप्तानी का पहला विकल्प होंगे। हालांकि, इस बात की संभावनाएं फिलहाल नही दिखाई दे रही हैं। इसलिए जड़ेजा, फ्रेंचाइजी के लिए दूसरा विकल्प होंगे।

इतना ही नहीं, जड़ेजा को अहमदाबाद फ्रेंचाइजी के लिए खेलने के लिए भी लुभाया जा सकता है। जोकि, उनके गृह राज्य की फ्रेंचाइजी भी है। यदि जड़ेजा अहमदाबाद का हिस्सा होते हैं तो संभव है कि वह वहाँ बतौर कप्तान खेल रहे हों। इसलिए, यह कहा जा सकता है कि जड़ेजा भी आईपीएल-2022 के लिए उनकी फ्रेंचाइजी द्वारा रिटेन किए जाने का ऑफर दिए जाने के बाद भी वह किसी अन्य फ्रेंचाइजी में शामिल हो सकते हैं।

Advertisement
Advertisement


Share The Post

Related Articles

Back to top button