FeatureIPL

सनराइजर्स हैदराबाद द्वारा रिलीज किए गए वो लोकप्रिय खिलाड़ी जो अन्य फ्रेंचाइजी के कप्तान बन गए

Share The Post

दुनिया की सबसे बड़ी क्रिकेट लीग इंडियन प्रीमियर लीग यानि कि आईपीएल का समापन हो चुका है। इस लीग की सबसे सफल फ्रेंचाइजी में से एक, चेन्नई सुपरकिंग्स ने एक बार फिर ट्रॉफी जीतकर यह साबित कर दिया कि आईपीएल का असली किंग चेन्नई सुपरकिंग्स ही है। एक ओर जहाँ चेन्नई सुपरकिंग्स ट्रॉफी जीतने में कामयाब हुई वहीं सितारों से भरी हुई सनराइजर्स हैदराबाद फ्रेंचाइजी इस टूर्नामेंट में एक-एक मैच जीतने को तरसती हुई दिखाई दी।

Advertisement

किसी भी क्षेत्र में जीत दर्ज करने के लिए नेतृत्वकर्ता की भूमिका सबसे अहम होती है। सनराइजर्स हैदराबाद ने अपनी टीम की कप्तानी के लिए विदेशी कप्तानों पर अधिक भरोसा किया है। हालांकि, विदेशी कप्तान डेविड वॉर्नर की कप्तानी में ही सनराइजर्स ने आईपीएल-2016 में खिताब जीता था। और, बाद के संस्करण में प्लेऑफ तक का सफर भी तय किया था। लेकिन, आईपीएल-2021 में सनराइजर्स की स्थितियां बेहद ही निराशाजनक रहीं।

Advertisement

किसी भी फ्रेंचाइजी के लिए खिलाड़ियों को रिलीज और रिटेन करते समय काफी सोच-विचार कर फैसला करना होता है। सनराइजर्स हैदराबाद ने भी निश्चित ही ऐसा किया होगा। लेकिन, फ्रेंचाइजी ने कुछ ऐसे खिलाड़ियों को भी रिलीज कर दिया जिन्होंने बाद में एक अलग आईपीएल फ्रेंचाइजी का नेतृत्व किया है।

आज के इस लेख में, हम ऐसे ही स्टार प्लेयर्स पर चर्चा करेंगे। जिन्हें, सनराइजर्स हैदराबाद द्वारा रिलीज कर दिया गया था। जिसके बाद उन्होंने किसी अन्य फ्रेंचाइजी की कप्तानी की है।

Advertisement

1.) जेपी डुमिनी

दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज ऑल राउंडर जीन पॉल डुमिनी यानि जेपी डुमिनी आईपीएल-2013 में सनराइजर्स हैदराबाद का हिस्सा थे। इस सीजन उन्होंने कुछ मैचों में शानदार प्रदर्शन किया। जबकि वे अधिकांश मैचों में संघर्ष करते हुए नज़र आए थे। जिसके बाद आईपीएल-2014 की नीलामी से पहले हैदराबाद ने उन्हें रिलीज कर दिया था।

सनराइजर्स हैदराबाद से रिलीज किए जाने के बाद जेपी डुमिनी को दिल्ली कैपिटल्स ने साइन कर लिया था। यानि कि, डुमिनी ने आईपीएल 2014 से 2016 के तक दिल्ली के लिए तीन सीज़न खेले। इस दौरान जेपी डुमिनी ने दिल्ली के लिए 1000 से अधिक रन बनाने के अलावा गेंदबाजी में भी सफलता प्राप्त की थी।

Advertisement

आईपीएल-2014 में दिल्ली की कप्तानी केविन पीटरसन के पास थी। लेकिन, उन्होंने अपनी कप्तानी में फ्रेंचाइजी को बेहद निराश किया था। उस सीजन खेले 11 में से मात्र एक मैच में ही दिल्ली को जीत हासिल हुई थी। जिसके बाद फ्रेंचाइजी अफ्रीकी ऑल राउंडर जेपी डुमिनी को कप्तान बनाया था। डुमिनी ने आईपीएल-2015 और 16 में कुल 16 मैचों में कप्तानी की थी। लेकिन, इस दौरान वह टीम को मात्र 6 मैचों में जीत दिला पाए थे।

2.) केएल राहुल:

केएल राहुल सनराइजर्स हैदराबाद द्वारा जारी किए गए लोकप्रिय खिलाड़ियों में से एक हैं। जिन्होंने बाद में आईपीएल में एक अलग टीम की कप्तानी की। आईपीएल-2014 और 15 में सनराइजर्स हैदराबाद का हिस्सा थे। लेकिन, इस दौरान वह अपनी छाप छोड़ने में सफल नही रहे जिसके बाद उन्हें फ्रेंचाइजी द्वारा रिलीज कर दिया गया। जिसके बाद अगले सीजन में उन्हें रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने साइन कर लिया था। हालांकि, वह वहाँ भी कुछ खास नही कर सके जिसके बाद बैंगलोर ने भी उन्हें रिलीज कर दिया।

Advertisement

बैंगलोर से रिलीज किए जाने के बाद केएल राहुल को पंजाब किंग्स ने साइन कर लिया था। जिसके बाद पिछले दो सीजन से राहुल पंजाब किंग्स की कप्तानी कर रहे हैं। दोनों ही सीजन में राहुल ने अपने बल्ले से जमकर धमाल मचाया है। लेकिन, अपनी फ्रेंचाइजी को प्लेऑफ तक ले जाने में असफल रहे हैं। ऐसा कहा जा रहा है कि, आईपीएल-2022 की मेगा नीलामी से पहले केएल राहुल पंजाब किंग्स छोड़ सकते हैं।

3.) इयोन मॉर्गन:

इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन आईपीएल में कई फ्रेंचाइजी के लिए खेल चुके हैं। मोर्गन आईपीएल 2015-16 तक सनराइजर्स हैदराबाद का हिस्सा थे। सनराइजर्स हैदराबाद ने जब डेविड वॉर्नर की कप्तानी में आईपीएल-2016 का खिताब अपने नाम किया था। तब, मोर्गन उस टीम का हिस्सा थे।

Advertisement

इयोन मोर्गन को इंग्लैंड के सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में से एक माना जाता है। लेकिन, आईपीएल-2020 से पहले उन्हें किसी भी फ्रेंचाइजी का कप्तान नही बनाया गया। किन्तु आईपीएल के पिछले सीजन में केकेआर ने दिनेश कार्तिक की जगह उन्हें कप्तानी सौंपी थी। जिसके बाद उन्होंने आईपीएल के इस सीजन में कोलकाता नाइट राइडर्स को लगातार जीत दिलाते हुए फाइनल तक पहुंचाया था। जहां उन्हें चेन्नई सुपरकिंग्स के हाथों हार का सामना करना पड़ा है।

Advertisement
Advertisement

Advertisement

Share The Post

Related Articles

Back to top button