Feature

5 सीएसके के खिलाड़ी जो आईपीएल में डायमंड डक पर आउट हुए हैं

Share The Post

क्रिकेट में डायमंड डक पर कोई खिलाड़ी आउट हो ऐसा हमें बहुत ही कम देखने को मिलता है। आपमें से बहुत से लोग डायमंड डक के बारे में नहीं जानते होंगे। इसलिए सबसे पहले हम आपको डायमंड डक के बारे में बताते हैं। जब कोई खिलाड़ी बिना कोई गेंद खेले रन आउट या फिर वाइड गेंद पर स्टंपिंग के माध्यम से आउट हो जाये तो इसे डायमंड डक कहा जाता है। आईपीएल (IPL) में भी कई खिलाड़ी इस तरह आउट हो चुके हैं और इसमें चेन्नई सुपर किंग्स यानि कि सीएसके के भी कई खिलाड़ी शामिल हैं।

यह भी पढ़ें: टी20 विश्वकप इतिहास के टॉप 4 गेंदबाजी प्रदर्शन

ऐसे में अब आपके मन में ये उत्सुकता जरूर होगी कि वो कौन से पांच सीएसके के खिलाड़ी हैं, जो आईपीएल में डायमंड डक पर आउट हो चुके हैं। चलिए अब समय ना व्यर्थ करते हुए आइये नजर डालते हैं उन पांच खिलाड़ियों पर।

Advertisement

सीएसके के 5 खिलाड़ी जो आईपीएल में डायमंड डक पर आउट हुए हैं

1. लक्ष्मीपति बालाजी बनाम दिल्ली डेयरडेविल्स, 2009

लक्ष्मीपति बालाजी चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से डायमंड डक पर आउट होने वाले पहले खिलाड़ी थे। वह 2009 में चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली डेयरडेविल्स के बीच 9वें मैच में दूसरी पारी की आखिरी की तीसरी गेंद पर आउट हो गए थे। डीडी ने पहले बल्लेबाजी करते हुए सीएसके को 190 रनों का लक्ष्य दिया। इस लक्ष्य का पीछा करते हुए सीएसके को ऐसी स्थिति में पहुंच गई जहां उसे आखिरी ओवर में 15 रन चाहिए थे।

पहली दो गेंदों पर दो-दो रन लेने के बाद जोगिंदर शर्मा आउट हो गए और उनकी जगह बालाजी मैदान पर उतरे। सीएसके को अब भी तीन गेंदों में 11 रन की जरूरत थी और ऐसे में एक बाउंड्री कि दरकार थी। हालांकि ऐसा नहीं हुआ और बालाजी एक रन लेने के चक्कर में तेजी से रन लेने की कोशिश में आउट हो गए।

2. सुदीप त्यागी बनाम आरसीबी, 2009

सुदीप त्यागी 2009 में बालाजी के बाद डायमंड डक के लिए आउट होने वाले चेन्नई सुपर किंग्स के दूसरे खिलाड़ी बने। त्यागी भी आईपीएल 2009 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच 44वें मैच की पहली पारी की आखिरी की तीसरी गेंद पर रन आउट हुए। मुरलीधरन के आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने आये सुदीप त्यागी ने जकाती के एक शॉट पर दो रन भागने के चक्कर में रन आउट हो गए थे।

Advertisement

3. मुरली विजय बनाम दिल्ली डेयरडेविल्स , 2012

मुरली विजय डायमंड डक पर ही नहीं बल्कि इस मैच में टाइटेनियम डक पर भी आउट हुए। टाइटेनियम डक से आशय ऐसे डक से होता जब कोई बल्लेबाज पारी की पहली ही गेंद पर बिना गेंद खेले ही आउट हो जाये। 2012 आईपीएल के 11वें मैच में सीएसके और दिल्ली के बीच हुए मैच में फाफ डू प्लेसी और मुरली विजय की जोड़ी चेन्नई के लिए पारी की शुरुआत करने उतरी।

फाफ डू प्लेसिस ने इरफान पठान की पारी की पहली गेंद का सामना किया और इसे इरफान के दाहिने तरफ डिफेंड किया। फाफ ने तुरंत दौड़ने के लिए कहा। लेकिन इरफान ने तुरंत ही गेंद को पकड़ कर महेला जयवर्धने की तरफ दिया। जयवर्धने ने मुरली विजय को जो कि काफी आगे निकल गए थे, को बिना देरी किये रन आउट कर दिया। इस तरह मुरली विजय आईपीएल में सीएसके की तरफ से डायमंड डक पर आउट होने वाले तीसरे खिलाड़ी बने।

4. मोहित शर्मा बनाम आरसीबी, 2015 आईपीएल में सीएसके के चौथे डायमंड डक पर आउट होने खिलाड़ी बने थे

मोहित शर्मा डायमंड डक दर्ज करने वाले सीएसके के चौथे और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ दूसरे खिलाड़ी बने। वह आईपीएल 2015 के 37वें मैच में मोहित पहली पारी की आखिरी गेंद पर डायमंड डक पर आउट हुए। पारी की आखिरी गेंद नेहरा ने खेली थी और इस पर बाई का रन चुराने के चक्कर में दोनों बल्लेबाज रन लेने के लिए भागे लेकिन विकेट के पीछे से दिनेश कार्तिक ने शानदार तरीके से डायरेक्ट हिट का मोहित को डायमंड डक पर चलता किया।

Advertisement

5. शार्दुल ठाकुर बनाम आरसीबी, 2019

शार्दुल ठाकुर सीएसके की तरफ से अब तक डायमंड डक पर आउट होने वाले आखिरी खिलाड़ी और आरसीबी के खिलाफ तीसरे सीएसके के खिलाड़ी हैं। आईपीएल 2019 के 39वें मैच में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ 162 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए चेन्नई सुपर किंग्स को अंतिम ओवर में 26 रन चाहिए थे। महेंद्र सिंह धोनी स्ट्राइक पर थे, और शार्दुल आखिरी ओवर की शुरुआत में नॉन-स्ट्राइकर एंड पर थे।

धोनी ने आखिरी ओवर डालने आये उमेश की शुरूआती पांच गेंदों पर 24 रन बटोरे और अब आखिरी गेंद पर जीत के लिए दो रन की जरूरत थी। धोनी आखिर गेंद पर शॉट नहीं खेल पाए और बाई का रन भागने के लिए दौड़े। शार्दुल के छोर पर पार्थिव पटेल ने विकेट के पीछे से बेहतरीन डायरेक्ट हिट करके अपनी टीम को मैच जीता दिया और शार्दुल डायमंड डक पर आउट हुए।

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement


Share The Post

Abhay Singh

क्रिकेट का प्रशंसक हूं और अपने इसी शौक की वजह से मैं क्रिकेट लेखन के क्षेत्र में भी सक्रिय हूं।

Related Articles

Back to top button