NewsSocial

रणजी ट्रॉफी के पहले मैच में पुजारा और रहाणे के एक-दूसरे के खिलाफ खेलने पर ट्विटर पर आयी प्रतिक्रियाओं की बाढ़

Share The Post

अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा दोनों को आगामी रणजी ट्रॉफी के लिए उनकी घेरलू टीम में शामिल किया है। चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे रणजी ट्रॉफी के पहले मैच में एक-दूसरे के सामने होंगे जब मुंबई 17 फरवरी को ग्रुप डी में सौराष्ट्र के खिलाफ खेलने उतरेगी। तो आज हम आपको बताएंगे कि पुजारा और रहाणे के रणजी ट्रॉफी के पहले मैच में एक-दूसरे के खिलाफ खेलने पर ट्विटर पर किस तरह की प्रतिक्रियाएं आयी है।

रणजी ट्रॉफी के पहले मैच में भिड़ेंगे पुजारा और रहाणे

ग्रुप डी में सौराष्ट्र, मुंबई, गोवा और ओडिशा भी शामिल है। 17 फरवरी को इस ग्रुप का पहला मैच डिफेंडिंग चैंपियन सौराष्ट्र और रणजी ट्रॉफी के इतिहास की सबसे सफल टीम मुंबई के बीच खेला जाएगा । इसी कारण पुजारा और रहाणे इस टूर्नामेंट में इतनी जल्दी एक दूसरे के खिलाफ खेलते हुए नजर आने वाले है।

वहीं भारत फरवरी महीने के अंत में घेरलू जमीन पर श्रीलंका के खिलाफ 2 टेस्ट मैच की सीरीज खेलेगा । रहाणे और पुजारा ने दक्षिण अफ्रीका में हुई टेस्ट सीरीज में खराब प्रदर्शन किया था और इस वजह से उनका टीम से बाहर होना लगभग तय माना जा रहा है। दोनों ही खिलाड़ी काफी समय से अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पा रहे है। ऐसे में टीम मैनेजमेंट उनकी जगह हनुमा विहारी और श्रेयस अय्यर जैसे खिलाड़ियों को मौका दे सकता है। रणजी ट्रॉफी में अजिंक्य रहाणे पृथ्वी शॉ की कप्तानी में खेलते हुए दिखाई देंगे जबकि पुजारा जयदेव उनादकट की कप्तानी में खेलेंगे।

Advertisement

इन दोनों के रणजी ट्रॉफी में आपस में भिड़ने पर ट्विटर पर आयी प्रतिक्रियाओं की बाढ़

पुजारा और रहाणे ने भारतीय टेस्ट टीम के लिया काफी अच्छा प्रदर्शन करके दिखाया है और टीम में अपनी जगह पक्की कर चुके थे। फिलहाल ये दोनों खराब फॉर्म से जूझ रहे है। हालांकि, कुछ दिनों में यह जोड़ी रणजी ट्रॉफी में आमने-सामने होगी। अगर उन्हें भारतीय टीम में अपनी जगह दोबारा बनानी है तो उन्हें इस टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन करके दिखाना होगी। वहीं जबसे रणजी ट्रॉफी में इन दोनों खिलाड़ियों के एक-दूसरे के खिलाफ खेलने की खबर आ रही है तब से ट्विटर पर इन दोनों को लेकर प्रतिक्रियाओं की बाढ़ सी आ गयी है।

Advertisement
Advertisement


Share The Post

Related Articles

Back to top button