IPLNewsSocial

सनराइजर्स के खिलाफ जीत के बाद धोनी के इंटरव्यू के दीवाने हुए फैंस, ट्वीट कर कहा ‘वो थेरेपी का काम करते हैं’

Share The Post

एमएस धोनी ने सीएसके की कप्तानी फिर से की और टीम को इस सीजन की सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ तीसरी जीत दिलाई। इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है कि सीएसके के सलामी बल्लेबाज ऋतुराज गायकवाड़ ने 99 रन की पारी खेलकर फॉर्म में वापसी कर ली। हालांकि वो अपने शतक से एक रन से चूक गए।

गायकवाड़ और डेवोन कॉनवे ने आईपीएल 2022 की हाईएस्ट ओपनिंग पार्टनरशिप की। इन दोनों सलामी बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए 182 रन की साझेदारी की। कॉनवे ने भी नाबाद 85 रन की पारी खेली थी। इन दोनों की पारियों की बदौलत चेन्नई 20 ओवर में 2 विकेट खोकर 202 रन का स्कोर खड़ा करने में कामयाब रही। इस पार्टनरशिप को नटराजन ने गायकवाड़ को आउट करके तोड़ा।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी हैदराबाद की टीम ने फाइट की हालांकि टीम 13 रन से मैच हार गयी। हैदराबाद की तरफ से सबसे ज्यादा रन 64*(33) रन बनाये।

Advertisement

मैच खत्म होने के बाद धोनी ने कहा, “शुरुआत करने के लिए यह एक अच्छा स्कोर था। जब आप इस तरह का स्कोर खड़ा करते हैं तो गेंदबाजों के लिए बचाव करना थोड़ा आसान हो जाता है। मैंने कुछ अलग नहीं किया, जब आप एक ही ड्रेसिंग रूम में होते हैं तो आप वही बातें कहते रहते हैं। कप्तान बदलने के साथ ज्यादा बदलाव नहीं हुआ है। हमें जो लक्ष्य उन्हें दिया अच्छा था, ओस आती है इसलिए गेंदबाजी अच्छी होनी चाहिए।”

उन्होंने आगे कहा, “हमने बस अच्छी शुरुआत की और शुरुआती ओवरों का पूरा फायदा उठाया। उसके बाद हमें अच्छी गेंदबाजी करने की जरूरत थी। छठे ओवर के बाद स्पिनरों ने अच्छा प्रदर्शन करके दिखाया। 200 के लक्ष्य का पीछा करते हुए भी विपक्षी टीम अच्छी शुरुआत के बाद वापसी करके दिखा सकती हैं लेकिन हमारे स्पिनरों ने पक्का किया कि ऐसा न हो।”

कप्तानी करने से रवींद्र जडेजा के प्रदर्शन पर असर पड़ा- धोनी

जडेजा के कप्तानी करने को लेकर उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि जडेजा को पता था कि पिछले सीजन में वह इस साल कप्तानी करने वाले है। पहले दो मैचों के लिए, मैंने उनके कप्तानी के काम को देखा और जो वो करना चाहते थे उन्हें करने दिया। मैंने जोर देकर कहा कि वह अपने फैसले की जिम्मेदारी खुद लेंगे।

Advertisement

एक बार जब आप टीम की कमान संभालने लग जाते हैं तो इसका मतलब है कि बहुत सारी डिमांड्स आने लगती हैं और इस वजह से जिम्मेदारी बढ़ जाती हैं। इस चीज ने जडेजा के दिमाग को प्रभावित किया होगा। मुझे लगता है कि कप्तानी ने उनकी तैयारी और प्रदर्शन पर असर डाला।”

धोनी हमेशा एक शानदार कप्तान रहे हैं और वह दुनिया के सामने अपने खिलाड़ियों के प्रयासों की तारीफ करते हैं। मैच के बाद माही को एक बार फिर पोडियम पर बोलते हुए देखकर फैंस ट्विटर पर अपने रिएक्शन दे रहे है।

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement


Share The Post

Related Articles

Back to top button