FeatureIPL

फ्रेंचाइजी द्वारा रिलीज किए ये 5 प्लेयर्स मेगा नीलामी के बाद जुड़ सकते हैं वापस

Share The Post

आईपीएल 2022 की मेगा नीलामी से पहले सामने आयी रिटेंशन सूची में शामिल कुछ प्लेयर्स के नामों ने हर किसी को हैरान किया था। यहां तक ​​​​कि कुछ प्लेयर्स के रिलीज ने भी क्रिकेट के दिग्गजों और फैंस को परेशान किया था।

Advertisement

हालांकि, आगामी 12 और 13 फरवरी को बैंगलोर में होने वाली मेगा नीलामी में रिलीज किए गए प्लेयर्स पर फ्रेंचाइजी को दोबारा बोली लगाने का मौका मिलेगा। निश्चित तौर पर नीलामी में फ्रेंचाइजी गेम चेंजर प्लेयर्स को वापस हासिल करने का प्रयास जरूरी करेंगीं।

Advertisement

आज के इस लेख में हम उन प्लेयर्स पर एक नजर डालेगें जिन्हें उनकी पूर्व फ्रेंचाइजी द्वारा मेगा नीलामी में साइन करने का प्रयास करते हुए देखा जा सकता है।

1.) युजवेंद्र चहल:

आईपीएल 2013 में मुंबई इंडियंस के लिए आईपीएल डेब्यू करने के बाद, युजवेंद्र चहल को आईपीएल 2014 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने साइन कर लिया था। इसके बाद से वह आईपीएल 2021 तक आरसीबी का हिस्सा थे। इस दौरान उन्होंने फ्रेंचाइजी के लिए 100 से अधिक विकेट हासिल।किए थे। जिस कारण वह आरसीबी के गेंदबाजी आक्रमण के महत्वपूर्ण बिन्दु बन गए थे।

Advertisement

हालांकि, लगातार आठ सीज़न खेलने के बाद, आरसीबी ने उन्हें आईपीएल 2022 की मेगा नीलामी से पहले रिलीज कर दिया था। आईपीएल 2021 के पहले लेग में, चहल को नियमित विकेट नहीं मिल सके थे। हालांकि, यूएई लेग में उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन किया था। इसके बाद भी उन्हें रिलीज कर दिया गया था।

2.) मुजीब उर रहमान:

मुजीब उर रहमान ने किंग्स इलेवन पंजाब (वर्तमान पंजाब किंग्स) के लिए अपना आईपीएल डेब्यू किया था। हालांकि, इसके बाद उन्हें सनराइजर्स हैदराबाद ने साइन कर लिया था। बड़ी बात यह है कि, इस क्वालिटी स्पिनर को दोनों ही फ्रेंचाइजी में अधिक मौके नहीं मिले हैं।

Advertisement

मुजीब उर रहमान ने अब तक आईपीएल के 19 मैच खेले हैं। जिनमें उन्होंने 8.18 की इकॉनमी से 19 विकेट हासिल किए हैं।अब जबकि, स्टार स्पिनर राशिद खान सनराइजर्स के साथ नहीं हैं। तब, ऑरेंज आर्मी मुजीब उर रहमान को ट्रेड करने के बारे में सोच सकती है। मुजीब दुनिया भर की टी20 लीग में बड़ी मांग वाले प्लेयर रहे हैं।

3.) देवदत्त पडिक्कल:

देवदत्त पडिक्कल का आईपीएल में प्रदर्शन बेहद शानदार रहा है। उन्होंने आरसीबी के लिए लगातार बेहतरीन प्रदर्शन किया है। देवदत्त की बैटिंग में एक अलग ही क्लास नजर आता है। उन्होंने अपनी बल्लेबाजी में कभी भी हड़बड़ाहट नहीं दिखाई है। जो उनकी धैर्यता को दर्शाता है।

Advertisement

आईपीएल के 29 मैचों में देवदत्त पडिक्कल ने 31.57 के औसत और 125.04 के स्ट्राइक रेट से 884 रन बनाए हैं।इस दौरान उनके उनके नाम एक शानदार शतक भी है। आईपीएल 2021 में उनका प्रदर्शन बेहद लाजवाब था। इस कारण उन्हें श्रीलंका दौरे पर टीम इंडिया में भी शामिल किया गया था।

4.) जॉनी बेयरस्टो:

पिछले दो सीजन में सनराइजर्स हैदराबाद की बल्लेबाजी बेहद खराब रही है। लेकिन, जॉनी बेयरस्टो की बल्लेबाजी में कभी कोई कमी नजर नहीं आयी है। ऐसा माना जा रहा था कि, बेयरस्टो सनराइजर्स की रिटेंशन लिस्ट में होंगे। लेकिन, शायद फ्रेंचाइजी और उनके बीच वेतन को लेकर बात नहीं बन पाई होगी।

Advertisement

आईपीएल के 28 आईपीएल मैचों में इंग्लैंड के इस बल्लेबाज ने 41.52 के औसत और 142.19 के स्ट्राइक रेट से 1038 रन बनाए हैं। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि उनके बल्ले से एक शतक और सात अर्धशतक भी निकले हैं। साथ ही वह अभी फॉर्म में हैं। इसलिए, सनराइजर्स उन पर बोली लगाने की कोशिश करती हुई दिखाई देगी।

5.) राहुल चाहर:

आईपीएल 2018 में राजस्थान रॉयल्स और मुंबई इंडियन्स के बीच राहुल चाहर को लेकर बिड वार देखने को मिला था। हालांकि, मुंबई ने बाद में 1.90 करोड़ रुपये में राहुल को साइन करने में सफलता प्राप्त की थी। राहुल ने अब तक मुंबई के लिए चार सीजन खेले हैं। पिछले सीजन के अलावा, उनके लिए सभी सीजन शानदार रहे थे।

Advertisement

हालांकि, पिछले सीजन के पहले चरण में उनकी गेंदबाजी में धार नजर आ रही थी। लेकिन, यूएई लेग में उनका प्रदर्शन खराब होने के कारण मुंबई इंडियंस ने उन्हें रिलीज करने का फैसला किया था। लेकिन, अब ऐसा माना जा रहा है कि बैंगलोर में होने वाली इस मेगा नीलामी में राहुल चाहर एक बार मुंबई इंडियंस के टारगेट पर हो सकते हैं।

Advertisement
Advertisement

Advertisement

Share The Post

Related Articles

Back to top button