Feature

कभी वर्ल्ड कप ना जीतने वाले क्रिकेटरों की ऑल टाइम ग्रेटेस्ट प्लेइंग इलेवन

Share The Post

वर्ल्ड कप जीतना हर खिलाड़ी का सपना होता है, लेकिन हर कोई इसे नहीं जीत पाता हैं। वहीं कई खिलाड़ियों ने वर्ल्ड कप में शानदार प्रदर्शन करके दिखाया है लेकिन वर्ल्ड कप की ट्रॉफी कभी नहीं उठाई है।

तो उसी चीज को लेकर आज हम आपको उन 11खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे है जो वर्ल्ड कप जरूर है लेकिन कभी ट्रॉफी जीतने में सफल नहीं हो पाए है।

1. सौरव गांगुली

सौरव गांगुली ने 1999 से 2007 तक तीन वर्ल्ड कप में हिस्सा लिया है और 2003 में अपनी कप्तानी में भारत को फाइनल तक पहुंचाया था। इस एडिशन में उन्होंने तीन शतक भी जड़े थे। उन्होंने 1999 और 2003 में कुल मिलकर 22 मैच खेले है और 55.88 की औसत से 1006 रन अपने नाम किये है।

Advertisement

2. गैरी कर्स्टन

बाएं हाथ के बल्लेबाज के नाम वनडे क्रिकेट में दक्षिण अफ्रीकी द्वारा हाईएस्ट पारी खेलने का रिकॉर्ड दर्ज है। उन्होंने 1996 वर्ल्ड कप में संयुक्त अरब अमीरात के खिलाफ नाबाद 188 रन की पारी खेली थी।

उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के साथ एक खिलाड़ी के रूप में कभी खिताब नहीं जीता, लेकिन 2011 में भारत के हेड कोच के रूप में वर्ल्ड कप की टॉफी अपने नाम करने में सफल रहे।

3. राहुल द्रविड़

राहुल द्रविड़ की गिनती दुनिया के बेहतरीन बल्लेबाजों में की जाती हैं। द वॉल नाम से मशहूर द्रविड़ ने भारत को 1999 से 2007 तक वर्ल्ड कप में भारत को रिप्रेजेंट किया है। हालांकि कभी वर्ल्ड कप जीतने में कामयाब नहीं हो पाए है।

Advertisement

दाएं हाथ के इस दिग्गज बल्लेबाज ने वर्ल्ड कप में 22 मैच खेले है और 61.42 की औसत के साथ 860 रन बनाये है। इस दौरान उनके बल्ले से 2 शतक और 6 अर्धशतक देखने को मिले है।

4. ब्रायन लारा

वेस्टइंडीज के इस दिग्गज खिलाड़ी ने अपने देश को 1992 से 2007 तक के वर्ल्ड कप में रिप्रेजेंट किया था। उन्होंने वर्ल्ड कप में कुल 34 मैच खेले है और 42.24 की औसत के साथ 1225 रन अपने नाम किये है। इस दौरान वो दो शतक और 7 अर्धशतक जड़ने में कामयाब रहे है।

5. जैक कैलिस

दक्षिण अफ्रीका के इस ऑलराउंडर ने टेस्ट, वनडे में बल्ले और गेंद दोनों से शानदार प्रदर्शन करके दिखाया है। हालांकि अपने करियर में कभी वर्ल्ड ना जीत पाने का मलाल उन्हें हमेशा रहेगा।

Advertisement

उन्होंने दक्षिण अफ्रीका को रिप्रेजेंट किया है। उन्होंने कुल मिलाकर इस टूर्नामेंट में 36 मैच खेले है और 45.92 की औसत के साथ 1148 रन बनाये है। इस दौरान वो 1 शतक और 9 अर्धशतक लगाने में कामयाब रहे है।

6. लांस क्लूजनर

दक्षिण अफ्रीका के इस ऑलराउंडर ने 1999 के वर्ल्ड कप में शानदार प्रदर्शन करके दिखाया है। उस वर्ल्ड कप में वो केवल दो बार आउट हुए। उन्होंने 281 रन बनाए थे और 17 बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाया था।

7. मार्क बाउचर

एक और दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ी ने इस लिस्ट में अपना नाम दर्ज करवाया है। उन्होंने बल्ले के साथ-साथ विकेटकीपिंग में भी अपना नाम कमाया है। उनकी गिनती दुनिया के बेहतरीन विकेटकीपर बल्लेबाजों में की जाती हैं।

Advertisement

उन्होंने 2003 से 2011 के वर्ल्ड कप में दक्षिण अफ्रीका को रिप्रेजेंट करते हुए 25 मैच खेले है और 27.21 की औसत के साथ 381 रन अपने खाते में जोड़ने में सफल रहे है। वर्ल्ड कप में उनकी बेहतरीन पारी 2011 के वर्ल्ड कप में वेस्टइंडीज के खिलाफ 23 गेंदों में 52 रनों की पारी खेली।

8. अनिल कुंबले

भारत के इस दिग्गज स्पिनर ने 1996 के वर्ल्ड कप में डेब्यू करते हुए 18.73 के औसत से 15 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई है। अनिल कुंबले की गिनती दुनिया के दिग्गज स्पिनरों में की जाती हैं।

वो 1996 से लेकर 2007 के बीच हुए 4 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम की तरफ से खेले लेकिन टीम कभी ट्रॉफी जीतने में सफल नहीं हो पायी और इस चीज का मलाल उन्हें हमेशा रहेगा।

Advertisement

9. जवागल श्रीनाथ

जवागल श्रीनाथ ने अपने करियर में 229 वनडे मैच खेले है और 28.09 की औसत से 315 विकेट लिए है। कर्नाटक के तेज गेंदबाज ने 2002 में रिटायरमेंट से पहले तीन वर्ल्ड कप- 1992, 1996 और 1999 के वर्ल्ड कप में भारत को रिप्रेजेंट कर चुके हैं।

वो 2003 के वर्ल्ड कप में फाइनल तक का सफर तय करने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे। श्रीनाथ ने वर्ल्ड कप में कुल 34 मैच खेले है और 4.32 के इकॉनमी रेट की मदद से 44 विकेट लिए है।

10. एलन डोनाल्ड

दक्षिण अफ्रीका के इस तेज गेंदबाज ने 1999 के वर्ल्ड कप में शानदार प्रदर्शन करके दिखाया था। दक्षिण अफ्रीका के कई अन्य महान खिलाड़ियों की तरह वो भी कभी इस ट्रॉफी को नहीं जीत पाए।

Advertisement

इस दिग्गज गेंदबाज ने कुल चार वर्ल्ड कप खेले है। इस दौरान उन्होंने दक्षिण अफ्रीका को 25 मैचों में रिप्रेजेंट करते हुए 38 बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाया है।

11. लसिथ मलिंगा

इस दिग्गज खिलाड़ी ने श्रीलंका को वर्ल्ड कप जीतने में बेहतरीन प्रदर्शन किया है। यॉर्कर के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों में से एक मलिंगा ने श्रीलंका के लिए शानदार प्रदर्शन किया है। अपने करियर के दौरान चोटों से जूझते हुए हमेशा अपनी टीम के लिए बेस्ट देने की कोशिश की।

मलिंगा अब तक वर्ल्ड कप की चार टीमों का हिस्सा रहे हैं। लसिथ मलिंगा ने वर्ल्ड कप में कुल मिलाकर 23 मैच खेले है और 5.43 के शानदार इकॉनमी रेट के साथ 43 विकेट लिए है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement


Share The Post

Related Articles

Back to top button