News

भारत के 3 खिलाड़ी जिन्होंने एक टी20 मैच में 400 या उससे अधिक के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी की

Share The Post

टीम इंडिया टी20 क्रिकेट के इतिहास की सबसे मजबूत टीमों में से एक है। मेन इन ब्लू ने 2007 में उद्घाटन टी20 विश्व कप खिताब पर कब्जा किया था और नियमित रूप से रैंकिंग में और साथ ही बहु-राष्ट्रीय टूर्नामेंट में टी20 टीमों के शीर्ष 4 का हिस्सा रहा है।टी20 मैचों में मुख्य चीजों में से एक बल्लेबाजी स्ट्राइक रेट है। कोई खिलाड़ी बड़ा स्कोर न करे तो ठीक है, लेकिन उसे धीरे-धीरे स्कोर नहीं करना चाहिए। टी20 क्रिकेट में 30 गेंदों में 25 की तुलना में फटाफटा बनाए गए रनों की अधिक सराहना की जाती है। बल्लेबाजों का लक्ष्य होता है कि वह टी20 प्रारूप में 150 से अधिक की स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी करे। हालांकि, मेन इन ब्लू के टी20 क्रिकेट इतिहास में कुछ ऐसे उदाहरण भी रहे हैं जहाँ बल्लेबाज ने एक से अधिक डिलीवरी का सामना करने के बाद मैच में 400 या उससे अधिक की स्ट्राइक रेट के साथ अपनी पारी का अंत किया है। इस आर्टिकल में हम उन तीन बल्लेबाजों के बारे में जानेंगे।

Advertisement

एमएस धोनी – भारत बनाम बांग्लादेश, 2016

मेन इन ब्लू ने एशिया कप का 2016 संस्करण जीता जो पहली बार टी20 प्रारूप में खेला गया था। एमएस धोनी की कप्तानी में खेलते हुए, मेन इन ब्लू ने बांग्लादेश के खिलाफ 45 रनों से जीत दर्ज की।

Advertisement

धोनी ने दो गेंदों में आठ रन बनाए। उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ दो गेंदों का सामना करते हुए एक छक्का लगाया और एक डबल लिया।

रवि बिश्नोई – बनाम पाकिस्तान, 2022

इस साल की शुरुआत में प्रशंसकों ने एशिया कप 2022 में भारत-पाक प्रतिद्वंद्विता के दो मैच देखे। सुपर फोर राउंड में हुए दूसरे मैच में भारतीय गेदंबाज रवि बिश्नोई ने दो गेंदों पर दो चौके बनाए और दो गेंदों पर आठ रन बनाए जिसके बाद उनका स्ट्राइक रेट 400 था।

Advertisement

दिनेश कार्तिक – बनाम ऑस्ट्रेलिया, 2022

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की श्रृंखला के दूसरे टी20 मैच में दिनेश कार्तिक ने दो गेंदों पर एक छक्का और एक चौका लगाया और टीम की जीत सुनिश्चित कर ली। उन्होंने नाबाद 10 रनों की पारी खेली इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 500 का रहा।

Advertisement
Advertisement

Advertisement

Share The Post

Related Articles

Back to top button