IPLNews

मुंबई इंडियंस कैसे पहुंच सकती है केकेआर से नेट रन रेट में आगे

Share The Post

अब जबकि आईपीएल अपने आखिरी चरण में पहुंचने लगा है, पॉइंट्स टेबल में चौथे पायदान पर पहुंचने की होड़ तेज हो गई है. केकेआर इस समय प्लेऑफ में पहुंचने वाली चौथी टीम बनती हुई दिख रही है, लेकिन मुंबई इंडियंस के पास अभी भी केकेआर के नेट रन रेट के करीब पहुंचने का मौका है, हालांकि वो गणित काफी मुश्किल है.

Advertisement

ऐसा संभव है कि मुंबई इंडियंस और केकेआर दोनों टीमें अपना आखिरी मैच जीत कर कुल 14 पॉइंट्स पर पहुंच जाएं और अगर ऐसा हुआ तो जिस टीम का नेट रन रेट ज्यादा होगा, वो टीम प्लेऑफ राउंड में प्रवेश करेगी. मुंबई इंडियंस नेट रन रेट के मामले में केकेआर से काफी पीछे है. उनका आखिरी मैच सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ है और उन्हें वो मैच बड़े अंतर से जीतना होगा अगर उन्हें अपना नेट रन रेट केकेआर के नेट रन रेट से बेहतर करना है.

Advertisement

मुंबई इंडियंस का पिछला मैच राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ था और हालांकि उन्होंने वो मैच बड़े अंतर से जीता, पर वो जीत भी उनके नेट रन रेट को केकेआर के नेट रन रेट के करीब लाने के लिए नाकाफी थी. मुंबई इंडियंस के लिए ये जरूरी है कि वो अपने आखिरी मैच में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ पहले बैटिंग करें और वो मैच 170 या उससे ज्यादा रनों से जीतें. अगर वो पहले बॉलिंग करते हैं तो उनके पास केकेआर के नेट रन रेट के पार जाने का कोई मौका नहीं होगा, अगर उन्होंने टारगेट एक ओवर में भी पा लिया.

Advertisement

मुंबई इंडियंस नेट रन रेट की मदद के बिना भी पहुंच सकती थी प्लेऑफ में

हालांकि एक ऐसी स्थिति बन सकती थी जहां नेट रन रेट का कोई महत्त्व ना रह जाता. अगर केकेआर अपना आखिरी मैच राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ हार जाती और मुंबई अपना आखिरी मैच सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ जीत जाती, तो वैसी स्थिति में केकेआर के 12 और मुंबई के 14 पॉइंट्स हो जाते और मुंबई बिना नेट रन रेट की मदद के प्लेऑफ में पहुंच जाती. पर अब वैसा नहीं हो सकता.

अब मुंबई के सामने एक लगभग असंभव सा कार्य है, पर उन्होंने पूर्व में कुछ ऐसे ही असंभव कार्यों को अंजाम दिया है, इसलिए फैंस को अब भी टीम के ऊपर भरोसा होगा. हालांकि इस बात की संभावना बेहद कम है कि मुंबई इंडियंस सनराइजर्स हैदराबाद को 170 या उससे ज्यादा रनों से हरा दे.

Advertisement
Advertisement
Advertisement


Share The Post

Related Articles

Back to top button