FeatureIPL

IPL 2022: इन 5 प्लेयर्स ने सोच-समझकर कम रखा है बेस प्राइस

Share The Post

आईपीएल की पिछली मेगा नीलामी में ट्रेंड की तुलना करना काफी आसान था। टीमें आमतौर पर जाने-माने नामों को पसंद करती थीं। भले ही वे कठिन दौर से गुजर रही हों। हालांकि, हाल के वर्षों में, रणनीति बदल गई है।

वर्तमान समय मे , फ्रेंचाइजी एक बैलेंस्ड टीम बनाने में माहिर हो गई हैं। इसलिए, उनके पास एक क्लियर आईडिया है कि, उन्हें किस प्लेयर के लिए ट्रेड करना चाहिए। यदि कोई खिलाड़ी खराब प्रदर्शन कर रहा है। भले ही वह एक स्थापित खिलाड़ी हो सकता है। ऐसी स्थिति में फ्रेंचाइजी उस प्लेयर को टारगेट नहीं करती हैं।

गौरतलब है कि, प्लेयर का सलेक्शन उनके बेस प्राइस पर भी निर्भर करता है। इसलिए कॉन्ट्रैक्ट के मौके में बाधा डालने से बचने के लिए, कुछ खिलाड़ी कम बेस प्राइस के साथ भी समझौता करते हैं। आईपीएल कॉन्ट्रैक्ट डिसाइड करने के लिए यह उनकी रणनीति है।

Advertisement

आज के इस लेख में, हम उन पांच खिलाड़ियों पर एक नज़र डालते हैं। जिन्होंने आईपीएल 2022 मेगा-नीलामी के लिए रणनीतिक रूप से खुद का बेस प्राइस कम रखा है।

1.) अजिंक्य रहाणे:

अजिंक्य रहाणे का बेस प्राइस आईपीएल 2022 मेगा नीलामी में सिर्फ 1 करोड़ रुपये होगा। रहाणे के नाम के हिसाब से यह बहुत कम है। यह देखते हुए कि उन्होंने हाल ही में भारत का नेतृत्व किया है। भले ही ये एक अलग बात हो सकती है कि वह फॉर्म से जूझ रहे हैं।

एक्सपर्ट्स कहते हैं कि, “रहाणे की फॉर्म ऑफ़-लेट से बिल्कुल भी उत्साहजनक नहीं रही है। इसलिए, इस बात की थोड़ी बहुत संभावना है कि, नीलामी में उनकी उपेक्षा की जा सकती है। हालाँकि, 1 करोड़ अब रहाणे में इन्वेस्ट करने के लिए एक अच्छी राशि है। जो पूरे सीजन एक या दो मैच जिता सकता है। इसलिए मुंबई के प्लेयर के लिए यह एक अच्छा कदम लगता है।

Advertisement

2.) मनीष पांडे:

मनीष पांडे उन खिलाड़ियों में से एक हैं। जिन्होंने, आईपीएल 2022 मेगा-नीलामी के लिए रणनीतिक रूप से खुद को कम आंका है। पांडे का आईपीएल फॉर्म हाल के वर्षों में गिरा है। उन्हें, आईपीएल 2021 में कुछ मौकों पर प्लेइंग इलेवन से भी बाहर रखा गया है। कर्नाटक का यह बल्लेबाज भी टीम इंडिया में जगह बनाने की दौड़ में नहीं है।

इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए, मनीष ने अपने लिए कम बेस प्राइस तय किया होगा। टी 20 फॉर्मेट में अपने अनुभव को देखते हुए, मनीष आसानी से 2 करोड़ रुपये के ब्रैकेट में खुद की जगह बना सकते थे। वह अभी 32 साल के हैं। उनके साथ ज्यादा उम्र का भी कोई मसला नहीं है। फिर भी, एक कॉन्ट्रैक्ट को पूरी तरह से डिसाइड करने के लिए, पांडे कम आधार मूल्य के लिए जा सकते थे।

3.) इयोन मॉर्गन:

इयोन मोर्गन इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कैप्टन हैं। यकीनन इस समय सीमित ओवरों की सर्वश्रेष्ठ टीम है। मॉर्गन खुद एक टॉप बल्लेबाज हैं। साथ ही मिडिल-ऑर्डर में ये बल्लेबाज कठिन परिस्थिति में भी अच्छा खेलते हैं। जबकि स्टीव स्मिथ और जेसन रॉय जैसे अन्य खिलाड़ी 2 करोड़ रुपये की श्रेणी में हैं। मॉर्गन इन सब से एक कदम नीचे हैं।

Advertisement

हालांकि, यह एक रणनीतिक कदम हो सकता है। उनका फॉर्म अच्छा नहीं रहा है, और टीमें निश्चित रूप से उन्हें 2 करोड़ रुपये में नजरअंदाज करेंगी। अब, हालांकि, मॉर्गन के पास कॉन्ट्रैक्ट प्राप्त करने का एक अच्छा मौका है।

4.) अमित मिश्रा:

अपने नाम 166 विकेट के साथ, अमित मिश्रा लीग के इतिहास में सबसे अधिक विकेट लेने वाले भारतीय खिलाड़ी हैं। हालाँकि, हाल के सीज़न में विकेटों का कॉलम सूखा रहा है। अगर पिचें स्पिनरों के अनुकूल हों, तो मिश्रा को प्लेइंग इलेवन में स्थान मिल सकता है। उनके मौजूदा फॉर्म और उम्र को देखते हुए, कई लोग मिश्रा को फर्स्ट-च्वाइस स्पिनर के रूप में नहीं देखना चाहेंगे।

इसलिए, यदि उन्होंने अधिक आधार मूल्य निर्धारित किया होता, तो वह बिना बिके रह सकते थे। हालांकि, मिश्रा ने खुद को 1.5 करोड़ रुपये के ब्रैकेट में गिरा दिया है। संभवतः उन्हें एक कॉन्ट्रैक्ट में उतरने का एक बेहतर मौका मिल रहा है।

Advertisement

5.) केदार जाधव:

केदार जाधव इस समय शानदार फॉर्म में नहीं हैं। आईपीएल और घरेलू क्रिकेट दोनों में केदार पर्याप्त रन नहीं बना पाए हैं। इसलिए, टीमें उन्हें प्लेइंग इलेवन में पसंद नहीं कर सकती हैं।

हालांकि, केदार के पास एक बैकअप मिडिल-ऑर्डर बल्लेबाज के रूप में मौका है। इसलिए, टीमें ऐसे में उनपर अधिक खर्च नहीं करना चाहेंगी। हालांकि, एक कैप्ड क्रिकेटर होने के नाते, केदार 2 करोड़ रुपयों का बेस प्राइज़ निर्धारित कर सकते थे। हालांकि, उन्होंने अपना बेस प्राइस 1 करोड़ रुपये निर्धारित किया है।

Advertisement
Advertisement

Advertisement

Share The Post

Related Articles

Back to top button